पकोड़ी गैंग ने फैलाई थी दहशत, मास्‍टरमाइंड निकला एमएससी स्‍टूडेंट, अरेस्‍ट

बरेली: बाइक और मोबाइल लूट में महारत रखने वाले पकोड़ी गैंग के दो शातिर बदमाशों को बरेली पुलिस ने पकड़ने में सफलता प्राप्‍त की है। पकड़े गए बदमाशों में से एक एमएससी का स्टूडेंट है। वह बरेली के एक निजी प्रतिष्ठित कॉलेज में अध्ययनरत है। वहीं पुलिस की गिरफ्त से पकोड़ी गैंग के चार सदस्य फरार हैं। पुलिस का दावा है कि बाकी बदमाश जल्द पुलिस की गिरफ्त में होंगे। बता दें कि जिले में पकोड़ी गैंग की दहशत व्‍याप्‍त थी और आए दिन वारदातें हो रही थीं।

ये भी पढ़ें: 75 साल के बुजुर्ग को बेटे ने ठुकराया, शिकायत सुन एसपी ने ऐसे की मदद

पुलिस रिकॉर्ड में रजिस्‍टर होगा पकोड़ी गैंग 

पुलिस का यह भी कहना है कि यह गिरोह अन्य राज्यों में सक्रिय हो सकता है। एसएसपी ग्रामीण सतीश कुमार ने बताया कि हाफिजगंज में वाहन चेकिंग के दौरान दो बाइक पर सवार युवकों को रोका गया और जब पूछताछ की तो उन्होंने पीलीभीत में बाइक लूट की बात स्वीकार की। इसके साथ थाना इज्जतनगर में लूटे गए मोबाइल भी बरामद हुए। एसपी ग्रामीण ने यह भी बताया कि नवाबगंज में 8800 और मोबाइल की लूट को भी युवकों ने अंजाम दिया था।

दोनों पकड़े गए युवकों में कमल पटेल और पारसवीर हैं। ये दोनों बरेली जिले के रहने वाले हैं। दोनों एक साथ ही पकोड़ी गैंग के लिए काम करते हैं।

ये भी पढ़ें: HC के चीफ स्टैंडिंग काउंसिल चौथी मंजिल से कूदकर दी जान

एसपी ग्रामीण सतीश का यह भी कहना था कि गैंग को पंजीकृत कराने के साथ पकड़े गए लोगों पर गैंगस्टर के तहत कार्यवाही की जायेगी और साथ ही गैंग के बचे सदस्यों को भी पकड़ा जाएगा। पुलिस ने इस केस में चोरी के मोबाइल खरीदने के आरोप में इमरान और लवनेश नाम के दो युवकों को भी पकड़ा है।

ये भी पढ़ें: देव स्थान पर कब्जे को लेकर दो पक्षों में हुआ खूनी संघर्ष, 6 लोग घायल