Top

पकड़ा गया उपमुख्यमंत्री के फर्जी पत्र से दबाव बनाने वाला जालसाज, ढेरों मुहरें बरामद

अभियुक्त के घर से कोयला मंत्रालय समेत अलग-अलग विभागों की 42 मोहरें और लेटर हेड बरामद किये गए हैं। वह फर्जी लेटर हेड लगाकर दबाव बना कर काम कराता था। अपने लिए ठेकेदारी का काम प्राप्त करने के अलावा वह दूसरों के काम कराके बदले में पैसों की वसूली करता था।

zafar

zafarBy zafar

Published on 30 April 2017 2:44 PM GMT

पकड़ा गया उपमुख्यमंत्री के फर्जी पत्र से दबाव बनाने वाला जालसाज, ढेरों मुहरें बरामद
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पकड़ा गया उपमुख्यमंत्री के फर्जी पत्र से दबाव बनाने वाला जालसाज, ढेरों मुहरें बरामद

कानपुर: पुलिस ने एक ऐसे व्यक्ति को गिरफ्तार किया है जो शक्तिशाली लोगों के फर्जी पत्र बना कर लोगों पर दबाव डाल कर काम कराता था। यह व्यक्ति तब पकड़ा गया जब इसने अपने बच्चे का एडमिशन कराने के लिए उपमुख्यमंत्री का लेटर बना कर स्कूल पर दबाव डाला। स्कूल की जांच में मामले का खुलासा हो गया।

उपमुख्यमंत्री का फर्जी पत्र

अभियुक्त श्रवण कुमार त्रिपाठी ने उपमुख्यमंत्री का पत्र बनाया और उस पर हस्ताक्षर करके मुहर लगा कर स्कूल पहुंच गया।

श्रवण ने यह जालसाजी अपने बच्चे के एडमिशन के लिए की थी।

स्कूल की प्रिंसिपल ने इसकी जानकारी सीएम कार्यालय से ली जहां ऐसा कोई पत्र जारी करने की बात से इनकार किया गया।

स्कूल प्रिंसिपल ने इसकी शिकायत एसएसपी से की। एसएसपी ने इसकी जांच के लिए टीम लगा दी।

पुलिस ने श्रवण के घर दबिश दी तो चौंकाने वाले खुलासे हुए।

अभियुक्त के घर से कोयला मंत्रालय समेत अलग-अलग विभागों की 42 मोहरें और लेटर हेड बरामद किये गए हैं।

एसएसपी आकाश कुल्हारी के अनुसार किदवई नगर थाना क्षेत्र स्थित यूपी किराना सेवा समिति विद्यालय की प्रधानाचार्या की शिकायत पर यह कार्रवाई की गई।

अभियुक्त ने उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा का स्टाम्प बनाकर स्कूल पर अपने बच्चे के एडमिशन का दबाव बनाया था।

ठेकेदार है अभियुक्त

अभियुक्त ने पूछताछ में बताया कि वह ओडी कल्चर विभाग की ठेकेदारी करता है।

इससे पहले वह विभिन्न जगहों पर इसी तरह फर्जी लेटर हेड लगाकर दबाव बना कर काम कराता था।

अपने लिए ठेकेदारी का काम प्राप्त करने के अलावा वह इसी तरह दूसरों के काम कराके बदले में पैसों की वसूली करता था।

आगे स्लाइड्स में देखिये कुछ और फोटोज...

पकड़ा गया उपमुख्यमंत्री के फर्जी पत्र से दबाव बनाने वाला जालसाज, ढेरों मुहरें बरामद

पकड़ा गया उपमुख्यमंत्री के फर्जी पत्र से दबाव बनाने वाला जालसाज, ढेरों मुहरें बरामद

zafar

zafar

Next Story