Top

पोस्टमार्टम के बाद बदली पुलिस की रणनीति, पत्रकार की मौत के मामले में दर्ज किया हत्या का मामला

Pratapgarh Crime News: पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव की मौत के मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।

Network

NetworkNewstrack NetworkShreyaPublished By Shreya

Published on 14 Jun 2021 12:40 PM GMT

पोस्टमार्टम के बाद बदली पुलिस की रणनीति, पत्रकार की मौत के मामले में दर्ज किया हत्या का मामला
X

वेंटिलेटर पर लैटे सुलभ की जांच करते डॉक्टर (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Pratapgarh Crime News: उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ में एक निजी टीवी चैनल पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव (Sulabh Srivastava Death Case) की मौत के मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पुलिस ने अपनी रणनीति बदल ली है। अभी तक पत्रकार की मौत को हादसा बता रही पुलिस ने अब हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

बता दें कि पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव शराब माफियाओं के खिलाफ अभियान में बेहद सक्रिय रूप से भूमिका निभा रहे थे। सुलभ श्रीवास्तव की रविवार रात को संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। उन्होंने अपनी मौत से दो दिन पहले ही अपनी हत्या की आशंका जता दी थी। उन्होंने एडीजी प्रयागराज जोन को इसको लेकर पत्र भी भेजा था।

परिवार को मुहैया कराई जाएगी सुरक्षा

वहीं, अब सबूत सामने आने के बाद मामले में हत्या की धाराओं में अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। हत्या के अलावा कई अन्य धाराओं में भी एफआईआर दर्ज हुई है। प्रयागराज जोन के एडीजी प्रेम प्रकाश ने इसकी जानकारी दी है। इसके साथ ही उन्होंने यह दावा किया है कि पत्रकार के परिवार को सुरक्षा मुहैया कराई जाएगी।

इधर, प्रतापगढ़ के डीएम नितिन बंसल ने पत्रकार के परिवार के लिए सरकार से आर्थिक मुआवजे की सिफारिश किए जाने की बात कही है। इसके साथ ही जिलाधिकारी ने सुलभ श्रीवास्तव की पत्नी को नौकरी दिए जाने का वादा किया है। उनका कहना है कि शैक्षिक योग्यता के आधार पर उन्हें नौकरी दिलाई जाएगी।

संदिग्ध हालत में हुई मौत

गौरतलब है कि सुलभ श्रीवास्तव की रविवार को संदिग्ध हालत में मौत हो गई। ये हादसा उस वक्त हुआ जब सुलभ क्राइम ब्रांच द्वारा अपराधियों को पकड़े जाने की खबर की कवरेज कर घर लौट रहे थे। वाराणसी लखनऊ हाइवे पर सुखपाल नगर के पास उनकी बाइक के साथ यह हादसा हुआ है। सुलभ अपने पीछे पत्नी सहित एक बेटा और एक बेटी छोड़ गए।

बता दें कि सुलभ ने दो दिन पहले ही अपनी हत्या की आशंका जताई थी। 12 जून को उन्होंने प्रयागराज जोन के एडीजी को पत्र लिखकर शराब माफियाओं के हाथों हत्या का अंदेशा जताई थी। साथ ही सुरक्षा की मांग भी की थी। उनके घर वालों का कहना है कि ये हादसा किसी साजिश के तहत हुआ है। दरअसल, जब सुलभ वापस आ रहे थे तो उनकी बाइक के साथ एक हादसा हो गया, जिसके चलते उनके सिर पर गंभीर चोटें आईं और उनकी मौत हो गई। हालांकि परिवार वालों ने कहा है कि यह हादसा साजिश के तहत हुआ है।

उनकी पत्नी का कहना कि वो पिछले तीन चार दिनों से परेशान थे। सुलभ को कुछ दिनों लग रहा था कि कोई उनका पीछा कर रहा है। साथ ही उन्होंने प्रयागराज जोन के एडीजी से खुद की सुरक्षा के लिए गनर की भी मांग की थी। सुलभ की पत्नी ने भी हत्या की आशंका जताई है। साथ ही उन्होंने न्याय की मांग की है। उनकी पत्नी ने कहा कि अगर वक्त रहते पुलिस उनकी मदद करती तो सुलभ आज जिंदा होते।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story