Top

Jaunpur News: प्रतापगढ़ में पत्रकार की हत्या के खिलाफ पत्रकारों ने जताया विरोध, DM को सौंपा ज्ञापन

जनपद प्रतापगढ़ में एबीपी न्यूज चैनल के पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव की शराब माफियाओं द्वारा की गयी हत्या के विरोध में आक्रोशित जनपद जौनपुर के पत्रकारों सीएम को ज्ञापन पत्र भेजा गया।

Kapil Dev Maurya

Kapil Dev MauryaReporter Kapil Dev MauryaShwetaPublished By Shweta

Published on 15 Jun 2021 1:55 PM GMT

ज्ञापन पत्र लिखते हुए पत्रकार
X

ज्ञापन पत्र लिखते हुए पत्रकार 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Jaunpur News: जनपद प्रतापगढ़ में एबीपी न्यूज चैनल के पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव की शराब माफियाओं द्वारा की गयी हत्या के विरोध में आक्रोशित जनपद जौनपुर के पत्रकारों ने जौनपुर प्रेस क्लब (Jaunpur Press Club) के बैनर तले इकठ्ठा होकर बजरिए जिलाधिकारी एक ज्ञापन पत्र प्रदेश सरकार के मुखिया मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश को भेजा है। जिसमें पत्रकारों ने मांग किया है कि सुलभ श्रीवास्तव के हत्यारों को तत्काल गिरफ्तार कर जेल की सीखचों में कैद कराया जाये तथा पूरी घटना की जांच सीबीआई से कराया जाए।साथ ही मृतक पत्रकार के परिवार को कम से कम 50 लाख रुपए का मुआवजा एवं मृतक की पत्नी को जीविको पार्जन के लिए सरकारी नौकरी प्रदान किया जाये। साथ ही प्रदेश के पत्रकारों को सुरक्षा प्रदान करने की मांग किया गया है।

पत्रकारों का ज्ञापन पत्र लेने वाले भू राजस्व अधिकारी राज कुमार द्विवेदी ने पत्रकारों को अश्वस्त किया कि जिलाधिकारी के संज्ञान में लाते हुए मांग पत्र को शासन में भेज दिया जायेगा। ज्ञापन पत्र देने से पहले कलेक्ट्रेट स्थित पत्रकार भवन में जौनपुर प्रेस क्लब के जिलाध्यक्ष कपिल देव मौर्य की अध्यक्षता में जनपद प्रतापढ़ की घटना सहित प्रदेश में पत्रकारों को सुरक्षित करने के मुद्दे को लेकर एक बैठक की गयी।

बैठक में उपस्थित पत्रकारों सम्बोधित करते हुए जिलाध्यक्ष श्री मौर्य ने कहा की आज सह एवं सच खबरों को लिखने पर माफियाओ अपराधी तत्वों द्वारा पत्रकार की हत्यायें की जा रही है जो दुखद ही नहीं निन्दनीय भी है प्रदेश की सरकार को पत्रकारों के सुरक्षा का उचित प्रबंध करना चाहिए ताकि पत्रकार सरकार और समाज के सामने सच लाने का साहस कर सके। प्रतापगढ़ में पत्रकार की हत्या इस लिए की गई कि उनके द्वारा शराब माफियाओ के काले कारनामों और कालाबजारी की पोल खोल दिया था। अगर सरकार और समाज को सच जानना है तो पत्रकारों के सुरक्षा प्रबंध करना पड़ेगा।

इकठ्ठा हुए सभी पत्रकार

बदलापुर तहसील के अध्यक्ष केदार नाथ सिंह ने कहा कि प्रतापगढ़ की घटना को लेकर पत्रकार ने आईजी प्रयागराज को लिखित शिकायत किया था इसके बाद बाद भी पत्रकार की हत्या कहीं न कहीं कानून के रखवालों की लापरवाही मानी जा रही है। वरिष्ठ पत्रकार राज कुमार सिंह ने कहा कि सरकार से लेकर समाज तक सभी अपेक्षा करते है कि उन्हे सच से रूबरू करायें लेकिन पत्रकार के सुरक्षा को लेकर किसी भी स्तर पर कोई चर्चा नहीं होती है और किसी भी घटना को लेकर पत्रकार परिवार को मुआवजा के मुद्दे पर हर स्तर पर सांफ सूंघ जाता है।बैठक का संचालन करते महामंत्री शम्भूनाथ सिंह ने कहा अगर मीडिया के सुरक्षा को लेकर सरकार जल्द कोई योजना नहीं बना लेगी। जनहित के मुद्दे नेपथ्य में जा सकते है। प्रतापगढ़ की घटना का जिक्र करते हुए प्रशासन पर लापरवाही का आरोप भी लगाया।

शोक में डूबे सभी पत्रकार

इस अवसर पर पत्रकार गण आशीष पान्डेय, राकेश कान्त पान्डेय, शशिराज सिन्हा, राजेश श्रीवास्तव, विद्याधर राय, मो अब्बास, आसिफ खान ,कुंवर दीपक सिंह रिंकू आदि ने अपने विचारों को व्यक्त करते हुए प्रतापगढ़ घटना की निन्दा किया। पत्रकारों ने दो मिनट मौन रह कर मृत आत्मा की शान्ति के ईश्वर से प्रार्थना किया। कार्यक्रम में बैठक से लेकर ज्ञापन देने तक बड़ी संख्या में पत्रकार गण उपस्थित रहे जिसमें श्री प्रकाश वर्मा,अनिल शर्मा, शशि कान्त मौर्य, असलम परवेज, डा लल्लन मौर्य, विक्रांत सिंह, संजय चौरसिया, आलोक कुमार सिंह, सुनील मिश्रा, कौशल पान्डेय, सुजीत वर्मा, दिवाकर दूबे, अजीत गिरी, अवधेश तिवारी आदि पत्रकार गण उपस्थित रहे।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Next Story