Top

पुरानी कवायद पर लौटी यूपी पुलिस, अब डुग्गी पीटकर पकड़ेगी आरोपी

By

Published on 4 Sep 2017 5:20 AM GMT

पुरानी कवायद पर लौटी यूपी पुलिस, अब डुग्गी पीटकर पकड़ेगी आरोपी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सुल्तानपुर: यूपी के सुलतानपुर में पुलिस ने 21 वीं सदी में 20 वीं सदी की कवायद करना शुरु कर दिया है। यहां बल्दीराय पुलिस ने गोवध अधिनियम के तहत वांछित अभियुक्तों के खिलाफ बड़ी कार्यवाही करते हुए अभियुक्तों के पूरे गांव में घूम-घूम कर डुग्गी पीटी, गुहार लगाई और नोटिस चस्पा किया।

यह भी पढ़ें: अगर यूपी के सरकारी अस्पतालों में बनना है डॉक्टर, तो आज आवेदन का आखिरी दिन

बल्दीराय थाने का मामला

एसओ बल्दीराय शिव प्रकाश सिंह गोवध अधिनियम के तहत वांछित आरोपियों की तलाश में पूरे लाव लश्कर के साथ इलाके में निकले। वांछित आरोपियों के खिलाफ सीआरपीसी की धारा 82 के तहत इलाके में डुग्गी पिटवाई। इस बीच पुलिस का एक सिपाही आरोपियों का नाम लेकर गुहार लगाता रहा और कुछ सिपाही आरोपियों के मकानों की दीवार पर नोटिस चिपकाते रहे।

यह भी पढ़ें: #RamRahim का बचाव करने वाले साक्षी महाराज के खिलाफ शिकायत दर्ज

इलाके में दहशत का माहौल

डुग्गी पीटने की ये प्रथा बहुत पहले थी, लेकिन बीच में पुलिस ने इसे बंद कर दिया था। जिसके चलते आरोपियों को गांव-घर में संरक्षण मिलने लगा था। जबकि डुग्गी पीटने से आरोपी लोगों के संज्ञान में आ जाता है और इससे पुलिस को जल्द सूचना भी मिल जाती है। एसओ बल्दीराय के इस कार्य की इलाके भर में सहारना हो रही है और दूसरी तरफ अपराधियों में दहशत का माहौल बन गया है।

यह भी पढ़ें : अफसर के तबादले के लिए नियम-कानून ताक पर, आदेश के साथ हिदायत भी

कोर्ट के आदेश पर हुई कार्रवाई

एसओ एसपी सिंह ने बताया कि मुकदमा संख्या 207/17 धारा 3/5/8 गोवध अधिनियम के तहत मुलजिम लल्लन पुत्र शरीफ, वसीर पुत्र शरीफ, अजीज पुत्र शब्बीर, नौशाद पुत्र लल्लन, कदीर पुत्र शब्बीर, कौशर पुत्र हमीउल्ला, फईम पुत्र मुन्ना गोवध मामले में वांछित हैं, जो कि फरार चल रहे हैं। कोर्ट द्वारा 82wpc की अनुमति प्रदान होने के बाद ये कार्रवाई की गई है। कोर्ट ने इसी महीने की 11 तारीख तक मुलजिमों को हाजिर होने के आदेश दिए हैं। इसके बाद कुर्की कर दी जाएगी।

यह भी पढ़ें: मोदी ने शिव प्रताप को मंत्री बनाकर योगी को दिया तगड़ा झटका !

Next Story