Top

WOW: रेडियो फ्रीक्वेंसी आई कार्ड से बच्चे की हर लोकेशन से वाकिफ होंगे पैरेंट्स

By

Published on 15 Sep 2017 6:30 AM GMT

WOW: रेडियो फ्रीक्वेंसी आई कार्ड से बच्चे की हर लोकेशन से वाकिफ होंगे पैरेंट्स
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नोएडा: गुरुग्राम के रायन स्कूल में छात्र की हत्या के बाद शहर के लोग स्कूलों में अपने बच्चों की सुरक्षा व्यवस्था के लिए परेशान हैं और लगातार प्रशासन से छात्रों की सुरक्षा के प्रबंध की मांग कर रहे हैं। इसी के चलते शहर के डीपीएस स्कूल ने छात्रों की सुरक्षा के मद्देनजर एक अहम कदम उठाया है, जिससे अब छात्रों के पेरेंट्स को घर बैठे अपने बच्चों की लोकेशन का पता चलता रहेगा।

यह भी पढ़ें: शामली: बदमाश करते हैं लड़कियों की स्कूल बस का पीछा, पैरेंट्स हुए परेशान

रेडियो फ्रीक्वेंसी आई कार्ड जारी

नोएडा के दिल्ली पब्लिक स्कूल ने यहां पढ़ने वाले छात्रों की सुरक्षा और उनके पेरेंट्स की चिंता को ध्यान में रखते हुए सभी छात्रों के लिए रेडियो फ्रीक्वेंसी आई कार्ड जारी किए हैं। इन कार्ड्स की मदद से पैरेंट्स व स्कूल प्रशासन को बच्चों की मूवमेंट का पता चलता रहेगा। स्कूल प्रशासन के एक कर्मी ने नाम न लिखने की शर्त पर जानकारी देते हुए बताया कि स्कूल प्रशासन ने नर्सरी से 5वीं तक के छात्रों के रेडियो फ्रीक्वेंसी आई कार्ड जारी कर दिए हैं और जल्द ही बाक़ी क्लास के छात्रों को भी ये आई कार्ड जारी कर दिए जाएंगे।

यह भी पढ़ें: 4 स्कूली छात्राएं लापता, परिजनों ने जताई अपहरण की आशंका, जांच में जुटी पुलिस

अभिभावकों को फोन पर मिलेगी जानकारी

स्कूल प्रशासन ने गेट पर इन कार्ड्स के लिए मशीन भी लगाई है, जिससे पेरेंट्स को घर बैठे बच्चे की लोकेशन के हिसाब से फोन पर मैसेज पहुंच जाएगा। स्कूल कर्मी ने बताया कि जब भी बच्चे स्कूल बस में बैठकर स्कूल परिसर में एंट्री लेंगे या बाहर जाएंगे, तब यह मशीन इन आई कार्ड में लगे चिप को डिटेक्ट कर पैरेंट्स के रजिस्टर्ड फोन नंबर पर मैसेज भेज देगी।

स्कूल ने जारी किया सर्कुलर

स्कूल द्बारा बच्चों के पैरेंट्स को एक सर्कुलर जारी कर इसकी जानकारी दी है। जिसमें स्पष्ट लिखा है कि आई कार्ड खो जाने पर नया कार्ड जारी करने के लिए 500 रुपए फीस देनी होगी।

Next Story