Top

प्रदेश के मंत्री का घरेलू सत्ता संघर्ष, बेटे और भतीजे के समर्थकों के बीच फायरिंग, कई घायल

मंत्री के पुत्र विजय यादव और भतीजे प्रमोद यादव के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया। विवाद के दौरान ही पहले हवाई फायरिंग और फिर पथराव शुरू हो गया। घटना की जानकारी होने पर एसपी ट्रैफिक हफीर्जुहमान, सीओ सिटी, शहर कोतवाल कई थानों की फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गये।

zafar

zafarBy zafar

Published on 22 Oct 2016 7:55 AM GMT

प्रदेश के मंत्री का घरेलू सत्ता संघर्ष, बेटे और भतीजे के समर्थकों के बीच फायरिंग, कई घायल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

प्रदेश के मंत्री का घरेलू सत्ता संघर्ष, बेटे और भतीजे के समर्थकों के बीच फायरिंग, कई घायल

आजमगढ़: प्रदेश के वन मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव और उनके भतीजे पूर्व ब्लॉक प्रमुख प्रमोद यादव के समर्थकों के बीच शुक्रवार रात भिड़ंत हो गई। इस हिंसक भिड़ंत में दर्जनों राउंड फायरिंग और पथराव हुआ। घायलों को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने मंत्री दुर्गा प्रसाद के भतीजे प्रमोद सहित 9 लोगों को हिरासत में लिया है।

सत्ता संघर्ष

-जानकारी के अनुसार शुक्रवार को शहर से सटे उकरौरा का मेला था।

-मेले में प्रदेश के वन मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव के समर्थक रंजीत सिंह ने भंडारे का आयोजन किया था।

-दूसरी तरफ मंत्री के भतीजे और पूर्व ब्लॉक प्रमुख प्रमोद यादव के समर्थक बृजेश सिंह ने भी भंडारा का आयोजित किया था।

-बताया जा रहा है कि रंजीत के भंडारे पर मौजूद मंत्री के पुत्र विजय यादव और भतीजे प्रमोद यादव के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया।

फायरिंग और पथराव

-विवाद के दौरान ही पहले हवाई फायरिंग और फिर पथराव शुरू हो गया।

-पथराव में उकरौरा निवासी सुनीता सिंह, मालती सिंह, इन्द्रजीत यादव, पप्पू यादव और संजीत सिंह घायल हो गए।

-घटना की जानकारी होने पर एसपी ट्रैफिक हफीर्जुहमान, सीओ सिटी, शहर कोतवाल कई थानों की फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गये।

-प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार पुलिस के पहुंचने के बाद मंत्री समर्थक मौके से चले गये।

आरोपों में पुलिस

-पुलिस ने प्रमोद यादव, ग्राम प्रधान बृजेश सिंह सहित 9 लोगों को हिरासत में ले लिया। इन्हें लेकर पुलिस रात करीब एक बजे शहर कोतवाली पहुंची।

-पीछे से प्रमोद के सैकड़ों समर्थक कोतवाली पहुंच गये। उन्होंने कोतवाली के सामने मंत्री और पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन किया।

-प्रमोद समर्थकों का आरोप है कि मंत्री के दबाव में पुलिस एकतरफा कार्रवाई कर रही है और मंत्री पक्ष के लोगों को पुलिस ने हिरासत में नहीं लिया।

-पुलिस प्रवक्ता और एसपी यातायात ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है और किसी भी दोषी को बख्शा नही जायेगा।

-देर रात वन मंत्री दुर्गा प्रसाद भी लखनऊ से अपने घर पहुंचे। वह घायलों को देखने हॉस्पिटल भी गए। उन्होंने कहा कि यह ठीक नहीं है और जो भी दोषी होगा उस पर कार्रवाई होगी।

-बताया जाता है कि दुर्गा प्रसाद के बेटे और भतीजे में पार्टी के भीतर वर्चस्व की जंग चल रही है। शुक्रवार को इसी ने हिंसा का रूप ले लिया।

आगे की स्लाइड्स में देखिए कुछ और फोटोज...

प्रदेश के मंत्री का घरेलू सत्ता संघर्ष, बेटे और भतीजे के समर्थकों के बीच फायरिंग, कई घायल

प्रदेश के मंत्री का घरेलू सत्ता संघर्ष, बेटे और भतीजे के समर्थकों के बीच फायरिंग, कई घायल

प्रदेश के मंत्री का घरेलू सत्ता संघर्ष, बेटे और भतीजे के समर्थकों के बीच फायरिंग, कई घायल

zafar

zafar

Next Story