Top

Sambhal Crime News: ट्रक लूटने वाले गिरोह का पर्दाफाश, पुलिस ने 6 बदमाशों को किया गिरफ्तार

अपहरणकर्ताओं ने वाहन चालक से पूछताछ की और उससे रास्ता पूछने के बहाने उससे बातचीत करने लगे जिसके बाद किसी जगह तो अपहरणकर्ता वाहन को ही लूट कर फरार हो गए ।

Network

NetworkNewstrack NetworkMonikaPublished By Monika

Published on 14 Jun 2021 2:58 PM GMT

Sambhal police busted  truck robbery
X

ट्रक लूटने वाले गिरोह का पर्दाफाश 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

संभल: पश्चिमी यूपी में इन दिनों वाहनों को लूटने एवं अपहरण कर्ताओं का जाल बढ़ता जा रहा है । संभल पुलिस ने बीते कुछ दिनों में ही इस तरह के दो मामलों का खुलासा किया है दोनों ही मामलों की कहानी बिल्कुल एक है पहले तो अपहरणकर्ताओं ने वाहन चालक से पूछताछ की और उससे रास्ता पूछने के बहाने उससे बातचीत करने लगे जिसके बाद किसी जगह तो अपहरणकर्ता वाहन को ही लूट कर फरार हो गए । तो किसी जगह वाहन के साथ-साथ चालक और क्लीनर को ही लेकर रफूचक्कर हो गए । इस तरह का दूसरा मामला जनपद संभल की पुलिस ने किया है और किडनैपर गैंग से जुड़े छह सदस्यों को भी गिरफ्तार किया है ।

इसकी शुरुआत जनपद संभल में 18 मई से हुई । जहां सबसे पहले चंदौसी निवासी नीरज की अपहरण के बाद हत्या की गई जिसके बाद 27 मई को बिहार से आए ट्रक को अपहरणकर्ताओं ने चंदौसी से ट्रक सहित चालक और क्लीनर का अपहरण कर बरेली ले गए । पूरे मामले का खुलासा करते हुए पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्रा ने बताया कि ट्रक चालक के अपहरण का मामला 8 जून को कोतवाली चंदौसी में दर्ज किया गया था । जिसके बाद से पुलिस लगातार इस मामले में काम कर रही थी । पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम ने मिलकर इस पूरे नेटवर्क का खुलासा किया।

चालक और क्लीनर की हत्या

गिरोह ने पुलिस को बताया कि ट्रक को इस पूरे गिरोह ने निशाना बनाकर पहले तो बरेली ले गए जिसके बाद बरेली में चालक और क्लीनर की हत्या कर दी और ट्रक को जनपद पीलीभीत भेज दिया जहां ट्रक में रंगाई का काम करके और नंबर प्लेट बदलकर उसको बेचने की फिराक में लग गया । लेकिन लगातार पुलिस इस गैंग की पीछे थी और पुलिस ने आखिरकार इस गैंग से जुड़े 6 सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया । इस गैंग से जुड़े तीन सदस्य जनपद संभल के रहने वाले हैं, दो पीलीभीत, तो एक बरेली का रहने वाला है । फिलहाल अभी भी इस गैंग के तीन सदस्य फरार हैं जिनकी तलाश में पुलिस लगी हुई है ।

वहीं पुलिस इस गैंग के खुलासे के बाद भले ही अपनी पीठ थपथपा रही हो लेकिन पुलिस का इस पूरे मामले में एक खड़ा फेलियर भी सामने आया है । आपको बता दें कि बिहार से आए ट्रक का मालिक 27 मई से ही लगातार पुलिस से शिकायत कर रहा था लेकिन पुलिस ने उसकी एक न सुनी । मामला मीडिया में पहुंचा तब पुलिस के नींद टूटी और 8 जून को पीड़ित की एफ आई आर दर्ज हुई । इसके बाद पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी और किडनैपर्स ने ट्रक चालक और क्लीनर को मौत की नींद सुला दिया था ।

संभल पुलिस ने किए दो खुलासे

अगर पुलिस इस मामले को पहले ही गंभीरता से लेती तो शायद बिहार का ट्रक चालक और क्लीनर बच जाते इस तरह के संभल पुलिस ने दो खुलासे किए हैं। इससे पहले ही कुछ दिनों पहले संभल पुलिस ने खुलासा किया था कि अमरोहा में गैंग ने पहले तो ट्रक चालक से लिफ्ट मांगी और नशीला पदार्थ सुंघाकर चालक को फेंक कर ट्रक लूटकर फरार हो गए थे। जिसके ट्रक को तो पुलिस ने बरामद कर लिया और कुछ दिन बाद ही खुलासा करके तीन आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया। वहीं इस मामले में अभी कुछ आरोपी फरार बताए जा रहे हैं इस तरह का गैंग पुलिस के लिए लगातार चुनौती बना हुआ है लेकिन उसके बाद भी पुलिस है कि मामले की गंभीरता को समझने के लिए तैयार नहीं है। जिसका नतीजा यही होता है कि किडनेपर गैंग के हौसले बुलंद हैं और वह लोगों को अपहरण कर मौत की नींद सुला देते हैं ।

Monika

Monika

Next Story