Top

सारा मर्डर केस: मौत की गुत्थी सुलझाने सीबीआई टीम पहुंची फिरोजाबाद

sujeetkumar

sujeetkumarBy sujeetkumar

Published on 22 Dec 2016 12:22 PM GMT

सारा मर्डर केस: मौत की गुत्थी सुलझाने सीबीआई टीम पहुंची फिरोजाबाद
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

फिरोजाबाद: बहुचर्चित सारा मर्डर मिस्ट्री के सबूतों को जुटाने गुरूवार सीबीआई की टीम फिरोजाबाद के हॉस्पिटल और घटनास्थल पर पहुंची। सीबीआई के अधिकारियों ने इस घटना में जुड़े सभी अधिकारियों के बयान लिए। सारा की 9 जुलाई 2015 को नॅशनल हाइवे-2 पर कार एक्सीडेंट में मौत हो गई थी।

सीबीआई के मुताबिक

-सीबीआई की टीम इस रहस्यमय मौत की कड़ियों को जोड़ने में लगी है।

-अधिकारी घटना स्थल पर गए और वहां पर पुछताछ की।

-फिर वह हॉस्पिटल पहुंचे और जिन डॉक्टरों ने उसका पोस्टमार्टम किया था उनके भी बयान दर्ज कराए।

-पोस्टमार्टम रिपोर्ट को खंगाले के साथ ही स्थानीय अधिकारियों से पुछताछ की।

-सीबीआई अधिकारी संतोष यादव से पुछताछ करने पर उन्होंने सारा मर्डर केस के बारे में कोई जानकारी नहीं दी।

आगे की स्लाइड में पढ़ें पूरी खबर ...

क्या था मामला ?

-यूपी के पूर्व मंत्री अमरमणि त्रिपाठी के बेटे अमनमणि की पत्नी सारा सिंह थी।

-जिसकी 9 जुलाई 2015 को नॅशनल हाइवे-2 पर कार एक्सीडेंट से मौत हो गई थी।

-इसमें सारा का पति अमनमणि त्रिपाठी कार चला रहा था।

-एक्सीडेंट के वक़्त जहां सारा की मौत हो गई थी वहीं उसके पति को खरोच तक नहीं आई थी।

-जिसके बाद सारा की मां अमनमणि पर उसकी हत्या करने का आरोप लगाया था।

-जिसमे सारा की मां सीमा सिंह का कहना था कि अमनमणि त्रिपाठी ने ही अपनी पत्नी सारा सिंह की हत्या की है।

-सारा की मां की मांग पर यूपी सरकार ने इस मामले को सीबीआई को सौप दिया था।

-सीबीआई ने अमनमणि को कुछ समय पूर्व अरेस्ट कर उसे जेल भेज दिया था।

मुख्य चिकित्सा अधीक्षक ए के शुक्ला ने बताया कि

-सीबीआई की टीम सारा के केस की जानकारी ले रही है।

-इस दौरान सीबीआई टीम ने शव का पंचनामा भरने वाले दारोगा उमर फारुख से भी पूछताछ की।

sujeetkumar

sujeetkumar

Next Story