Top

75 साल के बुजुर्ग को बेटे ने ठुकराया, शिकायत सुन एसपी ने ऐसे की मदद

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 23 Oct 2018 9:39 AM GMT

75 साल के बुजुर्ग को बेटे ने ठुकराया, शिकायत सुन एसपी ने ऐसे की मदद
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बरेली: जिले में मंगलवार को एसएसपी दफ्तर पहुंचे 75 वर्षीय बुजुर्ग की मार्मिक गुहार सुनकर वहां मौजूद एसपी समेत सभी का दिल पसीज उठा। बुजुर्ग ने बताया कि जिस कलेजे के टुकड़े को उसने बड़े नाजों से पाला था, आज वो बेटा ही उसे खाने के लिए एक वक्‍त का खाना तक नहीं देता है। इतना ही नहीं बेटे ने उसकी संपत्ति और पास मौजूद कुछ पैसे भी हड़प लिए हैं। उसकी व्‍यथा सुनने वाला कोई नहीं है। इतना कहकर वह फफक फफक कर रोने लगा। इस पर एसएसपी का प्रभार देख रहे एसपी ग्रामीण ने तुरंत उसकी मदद के लिए संबंधित थानाध्‍यक्ष को निर्देशित किया और मदद करवाकर सूचित करने को भी कहा है।

ये भी पढ़ें: डांडिया महोत्‍सव के जरिए दिया वूमेन इंपावरमेंट का संदेश, महिलाओं नें जमकर लगाए ठुमके

ये है पूरा मामला

एसएसपी कार्यालय पहुंचे 75 वर्षीय बुजुर्ग ने उस समय सभी का ध्यान अपनी तरफ खींचा, जब बुजुर्ग ने अपने बेटे के खिलाफ यह शिकायत करी कि साहब बेटा ना तो उधार लिये 5 हजार रुपये देता है और ना ही खाने को खाना देता है।

दरसल मामला यह है कि एसएसपी दफ्तर पहुंचे 75 वर्षीय बुजुर्ग होरीलाल ने एसएसपी का प्रभार संभाल रहे एसपी ग्रामीण डॉक्टर सतीश कुमार से कहा कि वह थाना शाही के दुनका का रहने वाला है। उनका बेटा लालता प्रसाद खाने को खाना नहीं दे रहा है। इसके साथ ही उनका बेटा उधार लिए 5 हजार रुपए भी नहीं दे रहा है। ऐसे में उनका जीवन बड़ा दुखदायी हो गया है।

ये भी पढ़ें: HC के चीफ स्टैंडिंग काउंसिल चौथी मंजिल से कूदकर दी जान

बेटे ने हड़प ली संपत्ति

होरीलाल ने बताया कि उसकी जमीन भी बेटे ने छीन ली है और खेती की फसल भी खुद रख लेता है। होरीलाल ने एसपी ग्रामीण को यह भी बताया कि उनकी बहू कभी कभी खाना दे देती है। वह अपने बेटे की शिकायत बरेली डीएम से लेकर मुख्यमंत्री तक कर चुके है। एक बार उनकी शिकायत पर पुलिस घर पहुंची थी। पुलिस ने उस समय उनसे बात करने की जगह बेटे से बात करके वापस लौट गई। एसपी ग्रामीण सतीश कुमार ने बुजुर्ग होरीलाल की बात सुनकर संबंधित थानाध्यक्ष को बुजुर्ग के मामले में कार्यवाही करने को कहा। वही बुजुर्ग को आश्वासन दिया उन्हें न्याय मिलेगा।

ये भी पढ़ें:दीपावली 2018: त्योहार पर इसलिए फोड़े जाते हैं पटाखे, अब SC ने सुनाया फैसला

sudhanshu

sudhanshu

Next Story