×

Shamli Crime News: राशन की कालाबाजारी: ग्रामीणों ने डीलर को पकड़ा रंगे हाथों, पुलिस ने ग्रामीणों पर लूट का उल्टा आरोप लगाया

Shamli Crime News: मामला सदर कोतवाली क्षेत्र के गांव लिसाढ़ का है, जहां एक सरकारी गल्ले का डीलर चोरी-छिपे गरीबों को वितरित करने वाले राशन को बेचने के लिए भैसा बुग्गी गाड़ी में भर कर ले जा रहा था।

Pankaj Prajapati
Updated on: 4 Jan 2022 5:45 PM GMT
Shamli Crime News: Black marketing of ration: Villagers caught dealer red handed, police accuse villagers of looting
X

शामली: राशन की कालाबाजारी, ग्रामीणों ने पकड़ा  

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Shamli News: जहां करोना काल में एक तरफ सरकार गरीबों को मुफ्त राशन देने के लिए पूरा प्रयास कर रही है। वहीं कुछ भ्रष्ट लोग सरकार की महत्वपूर्ण योजना को पलीता लगाने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ रहे हैं। मामला सदर कोतवाली क्षेत्र (Sadar Kotwali area) के गांव लिसाढ़ (Village Lisadh) का है, जहां एक सरकारी गल्ले का डीलर चोरी-छिपे गरीबों को वितरित करने वाले राशन को बेचने के लिए भैसा बुग्गी गाड़ी में भर कर ले जा रहा था। जिसमें 31 पेटी सरकारी रिफाइड़ की पेटी थी।

गाड़ी को मौके पर रंगे हाथों पकड़ लिया गया तथा पुलिस ( up police) व पूर्ति विभाग को इसकी सूचना दी लेकिन वहां पर पुलिस के अलावा कोई नहीं पहुंचा और ग्रामीणों की पुलिस से नोकझोंक हो गई शामली सदर कोतवाली के कोतवाल यशपाल सिंह उल्टा ग्रामीणों को धमका दिया। जिसका वीडियो ग्रामीणों ने बना लिया और सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

पुलिस ने ग्रामीणों को जेल भेजने की धमकी दे दी जो राशन ग्रामीणों ने पकड़ा था वह पुलिस ने ग्रामीणों पर लूट का उल्टा आरोप भी लगा दिया। और वहां से चले गए ग्रामीणों में पुलिस प्रशासन के खिलाफ काफी गुस्सा है और राशन डीलर को राशन निरस्त करने की मांग पर अड़े हुए हैं और राशन डीलर पर कठोरतम कार्रवाई पर की जाए।

आम गरीबों का निवाला छीन कर रहे राशन की कालाबाजारी

दरअसल, आपको बता दें मामला जनपद शामली के सदर कोतवाली थाना क्षेत्र के गांव लिसाढ़ है हमारे प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री आपदा को अवसर में बदलने की बात कहते हैं। वहीं कुछ लोग इस कोरोना संकट के दौरान आम गरीबों का निवाला छीन कर इस आपदा में अवसर की तलाश कर रहे हैं। सरकार की मुफ्त राशन वितरण योजना को पलीता लगा रहे हैं। मामला सदर कोतवाली थाना क्षेत्र के लिसाढ़ गाँव का है। इस गांव के राशन डीलर धमेंद्र मलिक पर ग्रामीणों ने आरोप लगाकर प्रशासन से शिकायत की थी कि वह गरीबों को राशन वितरण न करके उसकी कालाबाजारी करता है।


प्रशासन ने तो इस और कोई ध्यान नहीं दिया ग्रामीणों द्वारा मुखबिर ने सूचना दी कि धमेंद्र मलिक चोरी-छिपे सरकारी राशन को बाजार में बेचने के लिए जा रहा है। सूचना पर ग्रामीणों ने मौके पर पहुँच कर तथा राशन से भरी हुई गाड़ी को रुकवा लिया और राशन डीलर मौके से फरार हो गया।

ग्रामीणों ने पकड़ा भैंसा बुग्गी गाड़ी

फिलहाल ग्रामीणों ने भैंसा बुग्गी गाड़ी को मौके पर ही पकड़ रखी है और अधिकारी का इंतजार कर रहे हैं लेकिन कोई भी अधिकारी वहां जाने के लिए तैयार नहीं है ऐसे में अधिकारियों की लापरवाही और योगी जी को पलीता लगाने वाले राशन डीलर धर्मेंद्र मलिक पर कोई कार्रवाई नहीं कर रही है जिससे ग्रामीणों में काफी गुस्सा है।


ग्रामीणों का आरोप है कि गांव लिसाड़ का राशन डीलर धर्मेंद्र मलिक चोरी-छिपे राशन ले जा रहा था जो कि ग्रामीणों ने मौके पर इस को पकड़ा है जिसमें 31 पेटी रिफाइंड की है गांव वालों को आधा क भी राशन नहीं मिलता है और लगातार कई बार इसकी शिकायत भी की गई लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। ग्रामीणों का कहना है हमें राशन डीलर का राशन नीरज चाहिए पूर्ति विभाग वालों को भी कॉल की थी लेकिन कोई भी मौके पर नहीं आया ऐसे में साफ पता चलता है कि अधिकारियों की सांठगांठ से योगी जी के राशन को पलीता लगाया जा रहा है।

taja khabar aaj ki uttar pradesh 2022, ताजा खबर आज की उत्तर प्रदेश 2022

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story