Top

Sonbhadra Crime News: 26 साल बाद पकड़ा गया इनामी बदमाश, पुलिस को मिलेगा 25,000 का इनाम

Sonbhadra Crime News: 26 साल से फरारी काट रहे 25 हजार के इनामिया अपराधी को पुलिस ने मंगलवार को दबोच लिया। कई वर्ष से फरारी काटने के कारण उसके खिलाफ गैर जमानती वारंट और चल-अचल संपत्ति की कुर्की का आदेश जारी था।

Crime News
X

पकड़ा गया अपराधी pic(social media)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Sonbhadra Crime News: सोनभद्र के डाला पुलिस चौकी को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने 26 साल से फरारी काट रहे 25 हजार के इनामिया अपराधी को आज गिरफ्तार कर लिया। अपराधी को कार्ट में पेशी के बाद जेल भेज दिया गया।

बता दें कि डाला पुलिस चौकी (चोपन थाना अंतर्गत) क्षेत्र में मारपीट करने के बाद 26 साल से फरारी काट रहे 25 हजार के इनामिया अपराधी को पुलिस ने मंगलवार को दबोच लिया। कई वर्ष से फरारी काटने के कारण न्यायालय से उसके खिलाफ गैर जमानती वारंट और चल-अचल संपत्ति की कुर्की का आदेश जारी था। बावजूद आरोपी लगातार पुलिस को चकमा देने में कामयाब होता चला आ रहा था। तेलगुड़वा मोड़ से पकड़े गए आरोपी को पूछताछ के बाद दोपहर तीन बजे के करीब अदालत में पेश किया गया, जहां न्यायिक हिरासत में लेकर जिला कारागार भेज दिया गया।

26 साल से फरार था अपराधी

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि वर्ष 1996 में इस्लामिया इंटर कालेज ओबरा के पीछे गुरुद्वारा गली म़े रहने वाले शमशाद पुत्र मोहम्मद सलीम ने डाला क्षेत्र में निवास करने वाले एक व्यक्ति को मारपीट कर गंभीर रूप से घायल कर दिया था। उस मामले में चोपन थाने में धारा 323, 324, 504, 506 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी गई थी लेकिन वह फरार हो गया। उसके न मिलने पर पुलिस ने घटनास्थल पर मिले साक्ष्यों, वादी और गवाहों के बयान के आधार पर चार्ज शीट न्यायालय में प्रेषित कर दी।

अपराधी ने बेच दी थी अपनी संपत्ति

इस बीच मौका पाकर आरोपी ओबरा की सभी चल-अचल संपत्ति बेचकर मिर्जापुर जिले में गोपनीय तरीक़े से जाकर बस गया। उसके बाद से उसने ओबरा क्षेत्र के लोगों से अपना संपर्क भी तोड़ लिया। इधर चार्जशीट के बाद अदालत में हाजिर ना होने पर उसके खिलाफ कई बार गैर जमानती वारंट और संपत्ति कुर्की का आदेश जारी हुआ लेकिन उसके न मिलने के कारण पुलिस की कार्रवाई आगे नहीं बढ़ पाई। पिछले दिनों अपराधियों के खिलाफ प्रभावी अभियान चलाए जाने को लेकर एसपी अमरेंद्र प्रसाद सिंह ने मातहतों की बैठक ली और लंबे समय से फरारी काट रहे अपराधियों को हर हाल में दबोचने का निर्देश दिया। इसमें असफल रहने वाले थानाध्यक्षों और चौकी इंचार्जों को कार्रवाई की चेतावनी भी दी।

पुलिस टीम को मिलेगा 25000 का पुरस्कार

बता दें कि तेजी से सक्रिय हुए चोपन थानाध्यक्ष नवीन तिवारी और डाला चौकी इंचार्ज मनोज कुमार ठाकुर ने आरोपी की सरगर्मी से तलाश शुरू कर दी। पुलिस का दावा है कि मंगलवार को सुबह 10 बजे के करीब उसे तेलगुड़वा मोड़ पर मौजूद होने की सूचना मिली तो चोपन थाना और डाला चौकी दोनों की संयुक्त टीम ने जरूरी घेराबंदी कर उसे दबोच लिया। पूछताछ के बाद आरोपी शमशाद का संबंधित धाराओं के तहत चालान कर दिया गया। इस कामयाबी से गदगद पुलिस कप्तान अमरेंद्र प्रसाद सिंह ने गिरफ्तारी करने वाले पुलिस टीम की पीठ थपथपाई है और 25000 का पुरस्कार दिए जाने की घोषणा की है।

Pallavi Srivastava

Pallavi Srivastava

Next Story