Top

कहानी फिल्मी है : मौजमस्ती के लिए छात्र-छात्राओं ने बनाया लूट गैंग

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 11 March 2018 2:31 PM GMT

कहानी फिल्मी है : मौजमस्ती के लिए छात्र-छात्राओं ने बनाया लूट गैंग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नोएडा : रातोंरात बड़ा आदमी बनने व मौजमस्ती के लिए तीन छात्र व एक छात्रा ने मिलकर लूट गैंग बना लिया। इसमें तीनों छात्र शहर नामी कॉलेज के बीटेक व बीसीए की पढ़ाई कर रहे हैं। वहीं छात्रा एमिटी विश्वविद्यालय से फैशन डिजाइनिंग का कोर्स कर रही है।

गिरोह ने शनिवार रात को सेक्टर-36 में दो सैन्य अधिकारियों सहित चार लोगों को लूट लिया। इस गिरोह के चारों बदमाश शनिवार को कार से सेक्टर-36 पहुंचे। दो बदमाश कार से उतरकर रिटायर्ड ब्रिगेडियर रघुवीर सिंह व उनके चालक से पर्स व मोबाइल लूट लिया। इसके बाद वहीं पर विंग कमांडर रघुवीर सिंह की कार लूट ली। कार लूट कर भागते वक्त कार पेड़ से टकरा गई और टायर फट गया। इसी दौरान जब पड़ोस में खड़ा बुलेट सवार युवक बहादुरी दिखाते हुए दोनों बदमाशों से भिड़ गया तो उनकी भी बुलेट लूट ली। तब तक शोर शराबा सुनकर आसपास के लोग इकट्ठा हो गए और दोनों बदमाशों को पकड़ कर जमकर धुनाई कर दी। वहीं कार में बैठे बदमाशों की महिला साथी और एक युवक फरार हो गया। घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों आरोपी मिन्हास व सैफू को गिरफ्तार कर लिया। दोनों ने पूछताछ में इस गैंग के बारे में बताया।

ये हैं बदमाश

नितिन पवार: इस लूट गिरोह का मास्टरमाइंड है। इसने जीएल बजाज कॉलेज से बीसीए किया है और फिलहाल सेक्टर-16 में बीपीओ चलाता है। करनाल हरियाणा का रहने वाला नितिन पवार आम्रपाली सफायर में रहता है। घटना के दौरान कार में बैठा था और फरार है।

निधि राठौर: करनाल, हरियाणा की रहने वाली निधि राठौर एमिटी विश्वविद्यालय से फैशन डिजाइनर का कोर्स कर रही है। इस गिरोह की सक्रिय सदस्य है और लूट के दौरान लिफ्ट देने लेने का काम करती है। कई बार लूट के दौरान पकड़े जाने पर खुद के साथ छेड़खानी होने की बात कह कर दोस्तों को बचाती थी।

सैफू ऊर्फ साहब: मूल रूप से भागलपुर, बिहार निवासी सैफ इस गिरोह का सबसे खतरनाक सदस्य है। वह जीएल बजाज में बीसीए तृतीय वर्ष का छात्र है। फिलहाल सेक्टर-39 के बी ब्लॉक में रहता है। किसी भी लूट के दौरान घटना स्थल पर नेतृत्व करता है।

मिन्हास: मूल रूप से मुजफ्फरपुर, बिहार निवासी मिन्हास ग्रेटर नोएडा के गामा वन में रहता है। वह आईआईएमटी में बीटेक, कंप्यूटर साइंस का तृतीय वर्ष का छात्र है। घटना के दौरान सैफ का सहयोगी के रूप में काम करता था।

बीपीओ में बना था गैंग

इन सभी चारों लोगों की मुलाकात नितिन के बीपीओ में हुई थी। नितिन की दोस्त निधि है और सैफ व मिन्हास उस बीपीओ में काम कर चुके हैं। यहीं चारों लोगों ने लूट गैंग की योजना बनाई और वारदात को अंजाम देने लगा। इसमें कुछ और लोगों के शामिल करने की योजना चल रही थी। तब तक इस गिरोह का पर्दाफाश हो गया।

नितिव व निधि रहते हैं लिव इन में

एसपी सिटी अरुण कुमार सिंह ने बताया कि इस गिरोह का मास्टमाइंड नितिन है। वह निधि के साथ आम्रपाली सफायर में लिव इन में रहता है। दोनों हरियाणा के रहने वाले हैं और आपस में पहले से परिचित हैं। एसपी सिटी ने बताया कि दोनों फरार आरोपियों की तलाश में पुलिस की टीम जुटी हुई है। फरार आरोपयिों के घर, बीपीओ, कॉलेज व अन्य स्थानों पर पुलिस की टीम भेजी गई है।

आपराधिक इतिहास की जांच

एसपी सिटी ने बताया कि अभी तक पूछताछ में यह पता नहीं चल पाया है कि यह गिरोह कब से चल रहा है और कितनी घटनाओं को अंजाम दिया है। पुलिस ने बदमाशों को रिमांड पर लेगी और पूछताछ में इन बातों का पता करेगी। वहीं बताया जाता है कि गिरफ्तार आरोपी सैफ पर बिहार में भागलपुर व पटना में कुछ मुकदमें चल रहे हैं। नोएडा पुलिस इसके लिए बिहार पुलिस से संपर्क में है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story