सुल्तानपुर: क्राइम ज़ोन बना ज़िला, 12 घंटों में इंटरमीडिएट के छात्र समेत दो की हत्या

सुल्तानपुर: यूपी का सुल्तानपुर ज़िला क्राइम ज़ोन बन गया है। बीते 12 घंटों के अंदर ज़िले में ताबड़तोड़ हुई दो हत्याओं हड़कम्प मच गया है। अम्बेडकर नगर ज़िले के सीमावर्ती थाने अखंड नगर क्षेत्र में जहां इंटरमीडिएट के छात्र की गोली मार कर हत्या की गई।

यह भी पढ़ें: इस पाकिस्तानी खिलाड़ी ने तोड़ा कप्तान विराट कोहली का रिकॉर्ड

वहीं बल्दीराय थाना क्षेत्र में रविवार रात एक युवक की रंजिश के चलते पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। फिलहाल अनहोनी से निपटने के लिए इलाकों में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

अखण्ड नगर थाना क्षेत्र का मामला

जानकारी के मुताबिक पहली घटना अखण्ड नगर थाना क्षेत्र से जुड़ी है। इंटर का छात्र नीलेश यादव अपने गांव बड़ौरा ख्वाजापुर से निकल कर नगरी गांव के विद्यावती गर्ल्स डिग्री कालेज के पास पहुंचा था कि बाइक सवार दो बदमाशों नें उसके सिर पर दो गोलियां दाग दीं, और मौके से फरार हो गए।

यह भी पढ़ें: इकाना स्टेडियम में #INDvsWI का दूसरा T20 कल, यहां 24 साल बाद होगा इंटरनेशनल मैच

गोलियां नीलेश के सिर को आर-पार कर गई और व अचेत अवस्था में वहीं गिर पड़ा। जब तक ग्रामीण मदद को पहुंचते काफी मात्रा में खून बह चुका था, आनन-फानन में लोग उसे सीएचसी अखण्ड नगर लाया गया जहां डाक्टरों नें उसे मृत घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें: FIIB: PGDM में एडमिशन के लिए करें आवेदन, ये है प्रक्रिया

घटना के बाद तनाव पूर्ण स्थित को देखते हुए भारी मात्रा में पुलिस बल लगाया गया है। कादीपुर सीओ डीपी शुक्ला नें बताया कि लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है। अभी परिजनों से कोई तहरीर नहीं मिली है, तहरीर आते ही मुकदमा दर्ज कर लिया जाएगा।

बीती रात रंजिश के चलते युवक की हुई थी पीट-पीटकर कर हत्या

दूसरी वारदात बल्दीराय क्षेत्र के नरेश पांडेय का पुरवा मौजा रैंचा की है। बीते रविवार की रात रंजिश के चलते यहां युवक पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। पुलिस के अनुसार बल्दीराय क्षेत्र के नरेश पांडेय का पुरवा मौजा रैंचा निवासी जगनारायण पाठक और संतोष पांडेय उर्फ करिया (32) पुत्र भभूती प्रसाद के बीच विवाद चल रहा था।

30 अक्तूबर को संतोष पांडेय ने अपने परिवारीजनों के साथ मिलकर जगनारायण की पिटाई कर दी थी। जगनारायण का अभी इलाज चल रहा है। आरोप है कि रविवार को जगनारायण के पुत्र सुरेंद्र व अन्य ने मिलकर संतोष पांडेय की उस समय जमकर पिटाई कर दी जब वह शाम को घर लौट रहा था।

डीह गांव के पास घेरकर हमलावरों ने लाठी-डंडों से जमकर पीटा। इस घटना में गंभीर रूप से घायल संतोष को पहले सीएचसी और फिर जिला अस्पताल ले जाया गया। जिला अस्पताल में इलाज के दौरान चिकित्सक ने संतोष को मृत घोषित कर दिया था।