Top

सुशील कुमार का खुलासा, कैसे हुई सागर पहलवान की हत्या, रोते-रोते कही ये बात

Sushil Kumar: पुलिस स्टेशन में सुशील कुमार सिर झुकाये बैठे रहे, जब पुलिस अधिकारी ने उन्हें और उनके साथी को लॉक अप में बंद करने को कहा तो सुशील कुमार रोने लगे।

Network

NetworkNewstrack NetworkShivaniPublished By Shivani

Published on 25 May 2021 2:16 AM GMT

सुशील कुमार का खुलासा, कैसे हुई सागर पहलवान की हत्या, रोते-रोते कही ये बात
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Sushil Kumar: ओलंपिक में पदक विजेता सुशील कुमार पहलवान सागर हत्याकांड में रिमांड पर हैं। पूछताछ के दौरान कई खुलासे हुए। हालंकि थाने पहुँचने के बाद पहलवान सुशील कुमार काफी परेशान नजर आये। सुशील कुमार भावुक होकर रोने लगे। पुलिस स्टेशन में सिर झुकाये बैठे सुशील कुमार ने खाना भी नहीं खाया और बच्चों की तरह रोते रहे।

दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में कुछ दिनों पहले हुए विवाद के बाद पहलवान सागर धनखंड की मौत के मामले में ओलम्पियन सुशील कुमार कई दिनों से फरार थे। हाल ही में दिल्ली से उनकी गिरफ्तारी हुई। इसके बाद हत्याकांड मामले में दिल्ली पुलिस ने उन्हें 6 दिन की रिमांड पर लिया। सुशील मॉडल टाउन थाने में पुलिस रिमांड में रखा गया है।

सुशील कुमार सिर झुकाये बैठे रहे

पुलिस स्टेशन में एक कुर्सी पर सुशील कुमार सिर झुकाये बैठे रहे, जब पुलिस अधिकारी ने उन्हें और उनके साथी को लॉक अप में बंद करने को कहा तो सुशील कुमार टूट गए। लॉक अप की तरफ जाते समय सुशील कुमार फूट फूट कर रोने लगे और फर्श पर बैठ गए। जानकारी के मुताबिक, सुशील आधे घंटे तक इसी तरह सुबकते रहे। जिसके बाद उन्हें जांच अधिकारी ने कमरे में बैठाया और पीने के लिए पानी दिया।


जानकारी के मुताबिक, पुलिस रिमांड में उनकी रात ही जगाते हुए गुजरी। न तो सुशील सोये और न ही उन्होंने भोजन खाया। इस बीच वह पूरी रात कई बार रोते दिखे। बताया जा रहा है कि रात में दो बचे के करीब सुशील को नींद आयी थीं लेकिन सुबह उन्हें कानूनी प्रक्रिया के लिए जगा दिया गया। इस दौरान सुशील के साथ गिरफ्तार हुए उनके साथ अजय भी पुलिस रिमांड में शांत बैठे रहे।

सागर को डराना चाहते थे सुशील

वहीं पुलिस की पूछताछ में सुशील ने कबूल किया कि वह सिर्फ सागर को डराना चाहते थे, इसलिए उसकी पिटाई कर दी। सुशील ने माना कि विवाद वाले दिन वह हथियार लेकर गए थे और सागर व् उनके साथियों को डराने के लिए घटना का वीडियो बनवाया था। हालाँकि बाद में सागर की मौत हो गयी। जिसके बाद सुशील ये जानकारी होते ही फरार हो गए।
जब वे दिल्ली लौटे तो उन्होने एक महिला साथी के घर जाकर उसकी स्कूटी ली और उसी स्कूटी से अपने एक परिचित के पास पैसे लेने के लिए निकल पड़े। इस बीच उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

सुशील को स्कूटी देने वाली लड़की कौन

सवाल उठता है कि वह लड़की कौन है और उसका सुशील से क्या नाता है? हालंकि सूत्रों के मुताबिक, पुलिस ने गिरफ्तारी के बाद जब सुशील कुमार से पूछा कि उन्हें स्कूटी कहाँ से मिली और ये स्कूटी का मालिक कौन है, तो ओलंपिक पदक विजेता ने जानकारी दी कि जिस लड़की से उन्होंने स्कूटी ली है, वह स्टूडेंट है। सुशील के मुताबिक़, उस लड़की का इस मामले से कोई संबंध नहीं हैं। सूत्रों के मुताबिक़, स्कूटी वाली लड़की भी स्पोर्ट्स से संबधित है। हालंकि अब पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि उसका इस केस से कोई लेना देना तो नहीं।


ये भी पता चला कि सुशील कुमार ने स्कूटी वाली लड़की से फोन के जरिये कोई सम्पर्क नहीं किया था, वह लड़की के घर बिना बताये अचानक पहुंचे और स्कूटी मांगी। इसके अलावा ये भी जानकारी मिल रही है कि फरार होने के दौरान उन्होंने अपने करीबियों से लगातार सम्पर्क किया लेकिन इसके लिए वह फोन नहीं बल्कि डोंगल के जरिये इंटरनेट का इस्तेमाल कर रहे थे।

Shivani

Shivani

Next Story