Top

दो विवाहिताओं की संदिग्ध मौत, चेतावनी देकर दहेज हत्या करने का आरोप

परिवार का आरोप है शादी के बाद से सपना को दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाने लगा। 16 नवंबर की रात 11 बजे सपना के परिजनों के पास उसकी ससुराल से फोन आया कि या तो दहेज दो, वरना बेटी की लाश ले जाओ। इसके बाद फोन कट गया। दोबारा फोन आया तो लाश ले जाने को कहा।

zafar

zafarBy zafar

Published on 17 Nov 2016 3:31 PM GMT

दो विवाहिताओं की संदिग्ध मौत, चेतावनी देकर दहेज हत्या करने का आरोप
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नोएडा: बुधवार रात और गुरुवार को दो विवाहिताएं दहेज की बलि चढ़ गईं। एक विवाहिता का शव कमरे में पड़ा मिला तो दूसरी का शव पंखे से लटकता पाया गया। घटनाएं अलग-अलग थाना क्षेत्रों की हैं। दोनों मामलों में ससुराल वाले फरार हो गए हैं, पुलिस ने मामले दर्ज करके छानबीन शुरू कर दी है।

हत्या का आरोप

-पहला मामला सेक्टर 40 का है जहां 22 वर्षीया विमलेश का शव पंखे से लटका मिला। उनकी शादी मई 2014 में रोहित यादव के साथ हुई थी।

-आरोप है कि शादी के दो साल बाद ही ससुराल वालों ने विमलेश को दहेज के लिए प्रताड़ित करना शुरू कर दिया था।

-मृतका के चाचा रामवीर ने बताया कि विमलेश ने कई बार घर आकर शिकायत की लेकिन समझाने पर वापस चली गई।

-गुरुवार सुबह ससुराल वालों के तानों से तंग विमलेश ने दोपहर में फांसी लगा ली।

-हालांकि, मृतका के चाचा रामवीर का आरोप है कि विमलेश की हत्या करके शव पंखे से लटकाया गया है।

-सूचना मिलने पर कोतवाली सेक्टर-39 पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है और जांच में जुट गई है।

धमकी के बाद हत्या

-दूसरा मामला कोतवाली सेक्टर-24 का है, जहां फरवरी 2015 में नई बस्ती दादरी में सपना का ब्याह हुआ था।

-परिवार का आरोप है शादी के बाद से सपना को दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाने लगा।

-ससुराल वाले सपना से नोएडा में 100 गज का मकान और चार पहिया गाड़ी की मांग कर रहे थे।

-मांग पूरी न होने पर सपना को आए दिन मारा पीटा जाता था, जिसकी शिकायत सपना ने अपने पिता से की थी।

-16 नवंबर की रात 11 बजे सपना के परिजनों के पास उनकी ससुराल से फोन आया कि या तो दहेज दो, वरना बेटी की लाश ले जाओ।

-इसके बाद फोन कट गया। दोबारा फोन आया तो लाश ले जाने को कहा।

-पीड़ित परिवार ने तुरंत 100 नंबर पर इसकी शिकाय़त की और परिजन भाग कर बेटी की ससुराल पहुंचे, जहां सपना की लाश पड़ी थी।

-पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है और छानबीन में जुट गई है।

zafar

zafar

Next Story