Top

मैच के चक्कर में कंपाउडर ने मासूम को दी दवा की ओवरडोज, परिजनों ने धुना

By

Published on 16 Jun 2017 9:59 AM GMT

मैच के चक्कर में कंपाउडर ने मासूम को दी दवा की ओवरडोज, परिजनों ने धुना
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बागपत: बागपत के बड़ौत कोतवाली क्षेत्र में देर रात एक डॉक्टर के यहा उस वक़त हंगामा मच गया, जब 22 दिन की नन्हीं सी बच्ची को मैच के नशे में चूर कंपाउडर ने ओवरडोज का इंजेक्शन लगा दिया। जिससे इस नन्ही सी बच्ची की तबियत बिगड़ गई। ये हादसा उस वक्त हुआ, जब टीवी पर भारत और बंगलादेश का मैच चल रहा था। कंपाउडर मैच के नशे में चूर था और अपना काम भूल गया।

घंटों नहीं आया बच्ची को होश

परिजनों का आरोप है कि बच्ची को कई दिनों से निमोनिया था, जिसका इलाज बड़ौत के एमएम चिल्ड्रेन हॉस्पिटल में चल रहा था और जब परिजन बच्ची को लेकर डॉक्टर के यहां गए। तो मैच के नशे में चूर कंपाउडर ने बच्ची को ओवरडोज का इंजेक्शन लगा दिया और बच्ची निंद्रा अवस्था में यानी बेहोश हो गई।

जा सकती थी बच्ची की जान

घंटों तक जब बच्ची को होश नहीं आया, तो परिजनों ने अस्पताल में हंगामा खड़ा कर दिया। बच्ची की बिगड़ती हालत को देख पीड़ित परिजनों का पारा हाई हो गया और कंपाउडर की अस्पताल में पिटाई शुरू कर दी। जिसका वाकया अस्पताल में लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गया। लोगों का कहना था कि कि उसकी इस बेवकूफी से मासूम की जान भी जा सकती थी।

कल भारत और बांग्लादेश का मैच चल रहा था और बडौत कोतवाली क्षेत्र के रहने वाले धनंजय जैन ने अपनी 22 दिन की नन्हीं सी बच्ची किन्नी जैन को हॉस्पिटल में भर्ती कराया था। उसको कई दिनों से निमोनिया था। बच्चे को एक डोज दी जानी थी, लेकिन भारत बांग्लादेश के मैच के नशे में कंपाउडर इतना चूर हो गया की उसने बच्ची को इंजेक्शन की ओवरडोज लगा दी। जिससे बच्ची की तबियत बिगड़ गई।

परिजन कांप उठे और उनकी आंखों से आंसू छलक आए। डॉक्टर को बुलवाया, लेकिन पता चला कि बच्ची को ओवरडोज दे दी गई है। परिजनों का गुस्सा हाई हो गया और उन्होंने कंपाउडर की पिटाई कर दी।

Next Story