Top

मंदिर में चोरी से पहले चोरों ने किये देवी के चरण स्पर्श, सीसीटीवी ने कैद कर ली हर हरकत

चोरों ने ताला काटने के बाद हाथ जोड़ कर जंगली देवी को प्रणाम किया, देवी के पैर छुए और फिर चोरी में जुट गए। चोरों ने मंदिर के छत्र, पायल और सोने के आभूषण आराम से एक बैग में भर लिए। इसमें 6 किलो चांदी के छत्र और 5 ग्राम सोने के आभूषण हैं, जिसकी कीमत लगभग 3 लाख रुपये है।

zafar

zafarBy zafar

Published on 23 May 2017 11:03 PM GMT

मंदिर में चोरी से पहले चोरों ने किये देवी के चरण स्पर्श, सीसीटीवी ने कैद कर ली हर हरकत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर: अपराध का धार्मिक आस्था से कोई संबंध नहीं है। कानपुर के मंदिर में चोरी की घटना से तो यही साबित होता है। चोरों ने मंदिर में चोरी तो की, लेकिन उससे पहले देवी मां को प्रणाम कर उनके चरण स्पर्श किये। चोरों की यह सारी करतूत सीसीटीवी में कैद हो गई। अब पुलिस चोरी कर भागे इन भक्तों की तलाश में जुट गई है।

चोरी और श्रद्धा

बाबुपुरवा थाना इलाके के एम ब्लॉक में प्राचीन जंगली देवी का मंदिर है।

मंदिर में हर दिन सैकड़ों भक्त जंगली देवी के दर्शन के लिए आते हैं।

सोमवार रात को मंदिर में भंडारे का कार्यक्रम था। रात 12 बजे के बाद मंदिर बंद कर दिया गया था।

यह भी पढ़ें...चाह थी जस्टिन बीबर बनने की, पर पैसों की तंगी ने बना दिया शातिर चोर, 5 गिरफ्तार

रात में दो चोर ताला काट कर मंदिर के उस मुख्य हॉल में प्रवेश कर गये, जहां जंगली देवी की मूर्ति स्थापित है।

चोरों ने ताला काटने के बाद हाथ जोड़ कर जंगली देवी को प्रणाम किया, देवी के पैर छुए और फिर चोरी में जुट गए।

चोरों ने मंदिर के छत्र, पायल और सोने के आभूषण आराम से एक बैग में भर लिए।

इसमें 6 किलो चांदी के छत्र और 5 ग्राम सोने के आभूषण हैं, जिसकी कीमत लगभग 3 लाख रुपये है।

यह भी पढ़ें...जब जूते ने खोला चोरी का राज, तब पुलिस ने पकड़े तीन चोर, लेकिन दो अभी फरार

जल्द चढ़ेंगे हत्थे

भंडारे के कारण मंदिर कमिटी के कुछ सदस्य मंदिर में ही रुके थे।

आहट महसूस होने पर उन्होंने देखा कि दो चोर बैग ले कर भाग रहे हैं।

उन्होंने फ़ौरन इसकी सूचना मंदिर प्रबंधक को दी और फिर पुलिस को सूचना दी गई।

यह भी पढ़ें...सिविल हॉस्पिटल में चोरों का गैंग सक्रिय, तीमारदारों संग डॉक्‍टर को बनाया निशाना

मौके पर पहुंची पुलिस और फोरेंसिक टीम ने घटनास्थल का निरीक्षण किया और तफ्तीश के लिए तीन टीमें गठित कर दी गईं।

पुलिस को सीसीटीवी फुटेज में चोरी की पूरी वारदात मिल गई। इसमें चोरों के चेहरे कई जगह साफ साफ दिख रहे हैं।

सीसीटीवी फुटेज से पता चलता है कि चोरों की उम्र 25 से 30 वर्ष के बीच है।

बाबुपुरवा सीओ विशाल पाण्डेय के मुताबिक पुलिस की तीन टीमें गठित की गई हैं और चोरों को जल्द पकड़ लिया जाएगा।

आगे स्लाइड्स में देखिये चोरी के कुछ और फोटोज...

zafar

zafar

Next Story