Top

दो पार्ट में मिला 3 माह के बच्‍चे का शव, ग्रामीणों ने आवारा कुत्‍ते से छुड़ाया

By

Published on 3 Jan 2017 9:11 AM GMT

दो पार्ट में मिला 3 माह के बच्‍चे का शव, ग्रामीणों ने आवारा कुत्‍ते से छुड़ाया
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर: नौबस्ता थाना क्षेत्र के बसंत बिहार में 3 माह के मासूम बच्चे का शव आवारा कुत्ते लेकर घूम रहे थे। जब स्थानीय लोगों की नजर पड़ी तो बच्चे के शव को कुत्तों से छुड़ाया। मासूम का शव दो हिस्सों में था। मासूम के कमर के हिस्से का पार्ट नहीं मिला है। पुलिस बच्चे के कमर के नीचे का पार्ट ढूंढ़ने में लगी है।

बड़ी बेरहमी से बच्चे को दो पार्ट में काटा गया है जहां पर बच्चे का शव मिला है वहां से कुछ दूरी पर हिन्दू कब्रिस्तान है लेकिन बच्चा कब्रिस्तान का होता तो उसके शव में मिट्टी लगी होती। इसके साथ ही आवारा कुत्ते नोचते तो शरीर में दांतों के निशान होते लेकिन ऐसा कुछ भी नही था।

शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। शव देखने से प्रतीत हो रहा है कि मासूम को किसी धारदार हथियार से काटा गया है उसके बाद शव को फेंक दिया गया है।

क्‍या है पूरा मामला

-नौबस्ता थाना के बसंत बिहार में हिन्दू कब्रिस्तान है।

-कब्रिस्तान के पास ही आवारा कुत्ते बच्चे के शव को लेकर घूम रहे थे।

-तभी कुछ बाइक सवार युवकों की नजर उस पर पड़ी तो कुत्ते के चुंगल से बच्‍चे को छुड़ाया।

-स्थानीय लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने पास के कब्रिस्तान से उसके दूसरे पार्ट की तलाश की लेकिन दूसरा पार्ट नहीं मिला है।

-प्रेमा देवी ने बताया कि इस बच्चे के नाभि के नीचे का हिस्सा नहीं मिला है।

-देखने से प्रतीत हो रहा है कि इसको किसी धारदार हथियार से काटा गया है।

कब्रिस्तान में नगर निगम का एक भी कर्मचारी नियुक्त नहीं

-सबसे हैरानी की बात यह है कि हिन्दू कब्रिस्तान में नगर निगम का एक भी कर्मचारी नियुक्त नहीं है।

-कोई भी आकर आसानी से कब्र खोदकर शव को दफना सकता है।

-इसकी लिखा पढ़ी करने वाला कोई नहीं है इस तरह से अपराधी किसी को भी मार कर दफना सकते हैं।

वही रूहानी केंद्र आश्रम में रहने वाली मधु गुप्ता के मुताबिक

-बीते सोमवार की शाम को दो लोग एक बच्चे के शव को लेकर दफ़नाने के लिए आये थे।

-लेकिन उस बच्चे की उम्र एक माह के लगभग थी।

सीओ गोविन्द नगर ज्ञानेंद्र सिंह के मुताबिक

-एक बच्चे का शव मिला है जिसका नाभि के नीचे का हिस्सा नहीं है।

-कब्रिस्तान में एक बच्चे की कब्र खुदी हुई पाई गई है।

-जिसे किसी कुत्ते ने खोदा होगा वहा से एक कफ़न का कपड़ा भी मिला है।

-सभी तथ्यों की जांच की जा रही है शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है।

अनसुलझे सवाल

-पुलिस का कहना है कि कब्र खुदी पाई गई है एक कफ़न का टुकड़ा भी मिला है, लेकिन कफ़न के टुकड़े में कही भी खून के निशान नहीं है ,जबकि बच्चे के शव से खून निकल रहा था।

-यदि बच्चे के शव को कब्र में दफनाया गया होता तो उसके कपड़ों व शरीर में मिट्टी होती।

बच्चे के शव में कही भी कुत्ते के दांतों व पंजों के निशान नहीं है।

-शव देखने से प्रतीत हो रहा है कि किसी किसी धारदार हथियार से काटा गया है।

-दूसरा पार्ट नहीं मिलने की वजह से यह भी पहचान नहीं सकी कि यह लड़का है या लड़की।

Next Story