Top

मजार तोड़कर हनुमान की मूर्ति स्थापित करने वाले दो आरोपी पुलिस की गिरफ्त में

By

Published on 10 Aug 2017 8:17 AM GMT

मजार तोड़कर हनुमान की मूर्ति स्थापित करने वाले दो आरोपी पुलिस की गिरफ्त में
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मेरठ: मेरठ में मोहनपुरी में मजार तोड़कर हनुमान की मूर्ति स्थापित करने वाले दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वहीं आरोपी ने महाराष्ट्र में समाजवादी पार्टी के विधायक और प्रवक्ता अबू आजमी का सिर कलम करने वाले को 5 लाख का इनाम देने की घोषणा भी की थी।

दोनो हिंदू स्वाभिमान संस्था के पदाधिकारी हैं। पुलिस ने एक प्रदर्शन के दौरान उन्हें गिरफ्तार किया है। अमित भारद्वाज पर पहले भी एक मजार को भगवा रंग से रंगने का मामला दर्ज है।

क्या है पूरा मामला

-थाना सिविल लाइन इंस्पेक्टर धीरज शुक्ला ने बताया कि 25 जुलाई को मोहनपुरी में एक मजार पर हिंदू स्वाभिमान संस्था के कार्यकर्ताओं ने तोड़-फोड़ की थी।

-मामले में आरोपी संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित भारद्वाज और उपाध्यक्ष पुरूषोत्तम उपाध्याय को गिरफ्तार कर लिया है।

-थाना सिविल लाइन पुलिस अमित की तलाश में जुटी थी। दोनों मुकदमें में नामजद थे। वह कोर्ट में सरेंडर करने जा रहे थे।

आगे की स्लाइड में पढ़िए पूरी खबर

सर कलम पर पांच लाख इनाम की घोषणा

-पुलिस ने अराजकता फैलाने के आरोप में अमित भारद्वाज को गिरफ्तार कर लिया।

-थाना सिविल लाइन पुलिस की हिरासत में खड़े अमित की माने तो अबू आजमी ने अमरनाथ यात्रियों को लेकर एक विवादित टिप्पणी की थी।

-जिसके विरोध में उन्होंने आदमी का सिर कलम करने वाले को 5 लाख का इनाम देने की घोषणा की थी।

वंदेमातरम नहीं कर सकता तो खाड़ी चला जाए

-पुलिस ने अमित और उसके एक साथी पुरूषोत्तम को ​गिरफ्तार किया है। इस दौरान अमित के साथी ने भड़काऊ बयान थाने में ही दिया।

-उसने कहा कि ​जो आदमी यहां का अन्न खाता है। यहां का कपड़ा पहनता है, यहां सांस लेता है वह यदि वंदेमातरम वंदना नहीं कर सकता तो वह खाड़ी चला जाए।

-हिंदू इतना कमजोर नहीं है। काटना शुरू कर देंगे एक-एक को। यदि हमारी संस्कृति पर हमला करेंगे तो हम भी सड़कों पर उतर कर जवाब देंगे।

-फिलहाल पुलिस ने आरोपी अमित भारद्वाज और पुरूषोत्तम उपाध्याय को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।

Next Story