Top

गरीबों का निवाला ब्लैक में था स्टाॅक, पुलिस ने जब्त की कालाबाजारी की 2500 बोरियां

By

Published on 4 July 2017 7:16 AM GMT

गरीबों का निवाला ब्लैक में था स्टाॅक, पुलिस ने जब्त की कालाबाजारी की 2500 बोरियां
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

संभल: उत्तर प्रदेश में भ्रष्टाचार एक दम चरम सीमा पर पहुंच चुका है। गरीबों के हक़ पर डाका डाला जा रहा है, तो कहीं किसान अपने राशन को अच्छे दाम में बेचने को परेशान हैं। तो कहीं भ्रष्टाचार लोग राशन की काला बाजारी कर रहे हैं। अब ऐसे में देखना होगा कि गरीबों के पास पहुंचने वाला राशन उसको पर्याप्त मात्रा में मिलता है या नहीं।

-ताज़ा मामला यूपी के संभल से सामने आया है, जहां पर गरीबों के पेट का निवाला ब्लैक में लेकर स्टाॅक किया है।

-जनपद संभल के गुन्नौर कोतवाली क्षेत्र के जुनावई में गरीबों के राशन पर डाका डालने बाले बड़े रैकेट का एसडीएम प्रतिपाल सिंह ने बड़ा खुलासा किया।

-राशन की कालाबाज़ारी करने बाले गिरोह का भंडाफोड़ हुआ।

-एसडीएम ने सूचना पर जय लक्ष्मी ट्रेडर्स गोदाम से बरामद किए।

आगे की स्लाइड में जानिए कैसे राशन माफिया काट रहे थे गरीबों का पेट

-लगभग 2500 सरकारी राशन के कट्टे बोरो में भरे हुए सरकारी राशन के चावल मौके से फरार हुए सभी राशन माफिया बड़े लंबे समय से गरीबों के पेट पर बांका डाल रहे थे।

-राशन की कालाबाजारी करके स्टाॅक किया जा रहा था।

-कालाबाज़ारी माल की कीमत लाखो रुपय बताई जा रही है।

-ज़िले के आला अधिकारियों ने पहुंचकर गोदाम सील कर दिया है।

-अब देखने बाली बात होगी कि गरीबों के पेट पर डांका डालने बालों पर कैसी कार्रवाई की जाती है?

Next Story