Top

अनदेखी: अधिकारियों ने किया इग्‍नोर, पन्‍नी के नीचे सड़क पर रहने को मजबूर हुई युवती

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 11 Oct 2018 12:55 PM GMT

अनदेखी: अधिकारियों ने किया इग्‍नोर, पन्‍नी के नीचे सड़क पर रहने को मजबूर हुई युवती
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सहारनपुर: जिले में दबंग बेखौफ हैं। कुछ दबंगों ने पहले एक युवती की नहाते समय मोबाइल से वीडियो बना ली। जब पीडिता ने उनकी बात नहीं मानी तो दबंगों ने उसे बीमार भाई सहित सरकार द्वारा गरीबों के लिए आवंटित किए गए आवास से बेघर कर नगदी और सामान हड़प लिया। अब बेघर युवती पन्नी डालकर सड़क किनारे रह रही है। हैरत की बात ये है कि पीड़िता की अर्जी पर आला अधिकारियों ने भी कोई सुनवाई नहीं की। इस पर पीडिता ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया और 11 आरोपियों के खिलाफ कोतवाली सदर बाजार में संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है।

ये है मामला

जिले की पेपर मिल रोड स्थित वृंदावन गार्डन के सामने सड़क किनारे पन्नी डाल झोपड़ी बनाकर रह रही पीड़ित युवती के मुताबिक वह अपने भाई और पिता के साथ पहले नुमाइश कैंप में रहती थी। जहां कुछ लोगों ने उसकी दुकान पर कब्जा कर लिया था। कोर्ट से मुकदमा दर्ज कराया गया तो सन् 2014 में आरोपियों को सजा हुई, जो हाल में हाई कोर्ट से जमानत पर है। दबंगों ने तब भी उसे और उसके परिवार को बेघर कर डाला था। जिस पर जिलाधिकारी ने उन्हें एक मकान काशीराम आवासीय कॉलोनी पेपर मिल रोड पर रहने को आवंटित किया था। मुकदमेबाजी को लेकर दबंग उनसे रंजिश रखने लगे थे और कांशीराम आवासीय कॉलोनी मे ही रहने वाले एक आरोपी ने पहले नहाते समय मोबाइल से उसकी वीडियो बना ली। शिकायत पर उससे दबंगों ने मारपीट की और फिर उसे उसके बीमार भाई सहित घर से निकाल उनके घर का सामान, नगदी आदि भी चोरी कर लिया। उसके पिता की भी मौत हो चुकी है और 1 अगस्त 2018 को दूध लेने जाते समय उसे दबंगों ने अपहरण की धमकी दी और फिर 12 अगस्त को जब वह गैस सिलेंडर लेकर लौट रही थी तो पेपर मिल रोड पर ही आरोपियों ने उसे टैंपो में खींचने का प्रयास किया और नहाते समय बनाई गई उसकी वीडियो भी नेट पर डाल देने की धमकी देने लगे। दबंगों ने उनके खिलाफ दी गई शिकायत वापस लेने का दबाव बनाया। शोर मचाने पर आरोपी वहां से फरार हो गए। उसने आला अधिकारियों और कोतवाली सदर बाजार पुलिस का दरवाजा खटखटाया। मगर उसकी कोई सुनवाई नहीं हुई। पीड़िता ने 11 आरोपियों के खिलाफ कोर्ट के मार्फत मुकदमा दर्ज कराया है। अब उसे न्‍याय की आस है।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story