Top

प्रेमी संग मिलकर की टीटीई पति की हत्या,लाश ठिकाने लगाने को छत से फेंका

By

Published on 2 May 2016 10:53 AM GMT

प्रेमी संग मिलकर की टीटीई पति की हत्या,लाश ठिकाने लगाने को छत से फेंका
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

चंदौली: यूपी के चंदौली में प्रेम संबंध में बाधक बने पति की हत्या का मामला सामने आया है। पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या कर दी थी। लेकिन मुगलसराय कोतवाली पुलिस ने इस हत्याकांड से जल्‍द ही पर्दा उठा दिया।

क्या है घटना ?

-29 अप्रैल को मुगलसराय कोतवाली क्षेत्र के शाहकुटी में एक शव मिला था।

-शव पर कई जगह धारदार हथियार से चोट के निशान थे।

-यह लाश मुगलसराय स्टेशन पर तैनात टीटीई संजीव का था।

पत्नी ने कराया था केस दर्ज

-29 अप्रैल को मृतक टीटी की पत्नी प्रीति ने थाने में तहरीर दी थी।

-पुलिस ने धारा 302 व 201 के तहत केस दर्ज कर लिया था।

हत्या आरोपी सावन देवास और प्रीति हत्या आरोपी सावन देवास और प्रीति

एसपी ने किया खुलासा

-रविवार को चंदौली के एसपी ने मामले का खुलासा किया।

-इसमें मामले में मुख्य आरोपी मृतक संजीव की पत्नी प्रीति और उसके प्रेमी सावन देवास है।

-एसपी ने बताया की पूछताछ के दौरान उन्हें मृतक की पत्नी प्रीति पर शक हुआ।

-पूछताछ के लिए पुलिस ने उन्हें थाने बुलाया कड़ाई से पूछताछ की।

-प्रीति ने जो कहानी बताई उसे सुनकर सभी भौचक्के रह गए।

ऐसे दिया घटना को अंजाम

-प्रीति ने बताया कि प्रेमी सावन देवास के साथ मिलकर उसने संजीव की हत्या 27 अप्रैल को की थी।

-जब ड्यूटी से लौटकर संजीव देर रात घर लौटे तो प्रीति और प्रेमी सावन पहले से उस कमरे में मौजूद थे।

-संजीव के कमरे में घुसते ही प्रीति ने उसके सिर पर बोतल से हमला किया।

-वो जमीन पर गिर गया। इसके बाद सावन देवास ने उसका गला दबा दिया।

sanjeev-3प्रीति ने दबाया था मुंह

-संजीव के चिल्लाने और शोर बाहर ना जाने के डर से प्रीति ने संजीव का मुंह दबा दिया।

-संजीव ने खुद को बचाने के लिए संघर्ष किया और इस दौरान प्रीति की उंगली भी काट ली।

-लेकिन कुछ देर के बाद उसकी मौत हो गई।

लाश ठिकाने लगाने के लिए छत से फेंका

-संजीव की मौत के बाद उसकी लाश को घर में ही छोड़कर प्रीटी ऊंगली का इलाज कराने बनारस चली गई।

-इलाज के बाद दोनों वहीं के एक होटल में रुक गए।

-अगले दिन यानि 28 अप्रैल की शाम को दोनों वापस आए तो लाश को ठिकाने लगाने के लिए छत पर ले गए और छत से नीचे गिरा दिया।

-प्रीति ने सावन को दिल्ली भगा दिया और पुलिस पूछताछ में मनगढंत कहानी सुना दी।

प्रीति की अन्य तस्वीर प्रीति की अन्य तस्वीर

प्रेमिका से फोन करवा प्रेमी को दबोचा

-पुलिस ने पूछताछ में प्रीति का नंबर सर्विलांस पर लगाकर सावन को दिल्ली से बुलाया।

-जब वह मुगलसराय रेलवे स्टेशन पहुंचा तो पुलिस ने फिल्मी स्टाइल में सावन को पकड़ लिया।

-पूछताछ पर सावन ने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

क्या कहा एसपी ने ?

इस संबंध में एसपी अमित वर्मा ने बताया कि आरोपी सावन देवास और मृतक संजीव कुमार की पत्नी प्रीति ने हत्या को अंजाम दिया था। प्रीति इस मामले में मुख्य आरोपी है। दोनों के विरुद्ध केस दर्ज कर जेल भेज दिया गया है।

Next Story