Top

मौत के बाद पैसा हड़पने के लिए आ गई हाईकोर्ट के अफसर की फर्जी बीवी, नौकर ने खोली पोल

हेम सिंह की प्रॉपर्टी को हड़पने के लिए एक जालसाज महिला उनकी पत्‍नी बनकर घर पहुंच गई और अपने साथ दो लड़कियों को भी लेकर आई थी।

Network

NetworkNewstrack Network NetworkDharmendra SinghPublished By Dharmendra Singh

Published on 6 May 2021 1:48 PM GMT

Women
X

दरवाजे पर खड़ी महिला(फाइल फोटो: सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

प्रयागराज: इलाहाबाद हाईकोर्ट के ज्वाइंट रजिस्टार हेम सिंह की कोरोना से निधन हो गया। हेम सिंह अकले रहते थे और मौत के बाद उनके परिवार को कोई सदस्य नहीं पहुंचा। हेम सिंह की प्रॉपर्टी को हड़पने के लिए एक जालसाज महिला उनकी पत्‍नी बनकर घर पहुंच गई और अपने साथ दो लड़कियों को भी लेकर आई थी। नौकर ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। इसके बाद पुलिस ने पत्नी बनी महिला समेत तीनों को फर्जीवाड़ा के आरोप में जेल भेज दिया।

प्रीतमनगर निवासी हाईकोर्ट के ज्वाइंट रजिस्टार हेम सिंह कुछ दिनों से अकेले रह रहे थे। उनकी बेटी की पहले मौत हो गई इसके बाद पत्नी ने भी साथ छोड़ दिया। 19 अप्रैल को हेम सिंह की तबियत बिगड़ने पर उन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। जब अपने भी नहीं आए तो इटावा निवासी सिराज दोस्ती का फर्ज निभाने पहुंचा और उनका अंतिम संस्कार किया।
हेम सिंह की मौत के बाद एक मई 2021 को मऊआइमा निवासी रामशिला अपने साथ दो लड़कियों को लेकर उनके घर जां पहुंची। उसने उनकी गाड़ी और संपत्ति पर कब्जा जमाने की कोशिश। उस समय घर में मौजूद कौशांबी के रहने वाले हेम सिंह के सेवक संदीप यादव ने पुलिस को इसकी जानकारी दी।
धूमनगंज पुलिस मौके पर पहुंची और पूछताछ की। रामशिला के पास शादी का कोई प्रमाण नहीं था। पुलिस ने जब रामशिला के बारे में जानकारी इकट्ठा की तो पता चला उसके खिलाफ मऊआइमा और कर्नलगंज थाने में कई अपराधिक मुकदमे दर्ज है। पुलिस को विश्वास हो गया कि करोड़ों की संपत्ति हड़पने के लिए साजिश रची गई। पुलिस ने संदीप की तहरीर पर रामशिला उसके साथ पहुंची दोनों लड़कियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर तीनों को जेल भेज दिया।


Dharmendra Singh

Dharmendra Singh

Next Story