Top

पैसे नहीं थे कहां से लाती दूध, महिला ने दे दिया बच्चों को जहर

By

Published on 7 Jun 2016 5:10 PM GMT

पैसे नहीं थे कहां से लाती दूध, महिला ने दे दिया बच्चों को जहर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सहारनपुर: एक मां के पास अपने बच्चों को दूध पिलाने तक के पैसे नहीं थे। जब बच्चों ने मां से दूध मांगा तो गरीबी से तंग आकर उसने अपने दोनों बच्चों को जहर दे दिया और खुद भी खा लिया। जिससे मौके पर ही दोनों बच्चों की मौत हो गई, जबकि महिला को डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है।

क्या है मामला ?

-थाना गागलहेडी के गांव नवादा तिवाया निवासी सोमपाल की आठ साल पहले दिल्ली रोड स्थित गांव मवीखुर्द निवासी रुपा से शादी हुई थी।

-सोमपाल मजदूरी कर अपना और अपने दो बच्चों अतुल (4 साल) और सिमरन (3 महीना ) का पेट भरता था।

-सोमपाल की पत्नी रुपा (32) काफी समय से दिमागी रूप से परेशान थी।

-मंगलवार की सुबह सोमपाल और रुपा में बच्चों के लिए दूध लाकर देने की बात पर कहासुनी हो गई थी।

-पैसे न होने के कारण बच्चों के लिए दूध नहीं आ सका।

-जिसके बाद सोमपाल मजदूरी करने के लिए चला गया।

shahjahanpur

खुद भी खा लिया जहर और बच्चों को भी खिला दिया

-शाम को बच्चों को भूख लगी और ढूध मांगने पर रुपा उन्हें दूध उपलब्ध नहीं करा सकी।

-इससे तंग आकर रूपा ने खुद भी जहर खा लिया और बच्चों को भी जहर दे दिया।

-इससे बच्चों की थोड़ी ही देर में मौत हो गई।

-इस दौरान परिजनों को कुछ शक हुआ तो उन्होंने जहां बच्चों को मृत हालत में पाया वहीं रुपा बेहोशी की हालत में पड़ी थी।

-रुपा को तुरंत इलाज के लिए डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है।

saharanpur-police

पुलिस प्रशासन में मचा हडकंप

-इस मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया।

-एसओ गागलहेडी कुलदीप कुमार के अलावा अन्य पुलिस प्रशासनिक अधिकारी भी डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल पहुंच गए।

Next Story