Top

बेटे के हत्यारे को पकड़वाने के लिए वीरू बनी महिला, देखिये कैसे मांग रही इंसाफ

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 23 Dec 2016 8:01 PM GMT

बेटे के हत्यारे को पकड़वाने के लिए वीरू बनी महिला, देखिये कैसे मांग रही इंसाफ
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मेरठ : बेटे के हत्यारोपियों को पकड़वाने के लिए एक महिला टंकी पर चढ़ गई। महिला ने केरोसिन की बोतल लेकर आत्महत्या की चेतावनी दी। वहां मौजूद पुलिस अधिकारियों ने महिला से नीचे उतरने की गुजारिश की लेकिन महिला ने उनकी एक नही सुनी। काफी देर बाद वहां मौजूद लोगों के समझाने पर महिला टंकी से उतरने के लिए मानी।

छह माह पूर्व हुई थी बेटे की हत्या

-टीपीनगर थाना क्षेत्र के पूठा गांव के वेदव्यासपुरी निवासी सुरेश की पत्नी कुंवरपाल ने पानी की टंकी पर चढ़कर कैरोसिन छिड़कर आत्महत्या करने का प्रयास किया।

-महिला के टंकी पर चढ़ने की खबर पुलिस महकमे में पहुंची तो हडकंप मच गया।

-महिला ने बताया कि छह माह पूर्व उसके बेटे सचिन की गांव के ही तीन युवकों ने हत्या कर दी थी।

-हत्या का मुकदमा थाना पुलिस में कराया गया था। लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नही की गई है।

खुले घूम रहे आरोपी

-महिला का आरोप है कि कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने हत्यारोपियों को जेल भेजा था।

-लेकिन वह जेल से चंद दिनों में ही छूट कर बाहर आ गया है।

-आरोपी समझौते का दबाव बनाकर उसके दूसरे बेटे को जान से मारने की धमकी दे रहे है।

-टीपीनगर पुलिस ने मामले आरोपियों पर सही कार्रवाई नही की है।

-पीड़ित महिला का कहना है कि अगर आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई नही हुई तो वह आत्महत्या के लिए मजबूर होगी।

-थाना पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद महिला को पानी की टंकी से नीचे उतारा और कार्रवाई का आश्वासन दिया।

-जिसके बाद महिला शांत हुई और पानी की टंकी से नीचे उतरी।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story