×

#AntiRomeoSquads : शादीशुदा युवती की आबरू के पीछे पड़े तीन दबंग

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 26 March 2017 11:55 AM GMT

#AntiRomeoSquads : शादीशुदा युवती की आबरू के पीछे पड़े तीन दबंग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

झांसी : यूपी की गद्दी पर बैठते ही योगी आदित्यनाथ ने सबसे पहले राज्य में एंटी रोमियो स्क्वॉड बनाया, आज चर्चा भी इसी की सबसे अधिक हो रही है। लेकिन सूबे के सीमावर्ती जिले झाँसी के चिरगांव इलाके की एक शादीशुदा युवती की आबरू पर पिछले कुछ महीनों से खतरा मंडरा रहा है।

ये भी देखें : गोरखपुर: बीजेपी कार्यालय पहुंचे सीएम योगी करेंगे मण्डल के सांसद ,विधायक,जिलाध्यक्षों के साथ बैठक

युवती ने पहले जब इसकी शिकायत की तो पुलिस ने बदमाशों को जेल भेज दिया था। लेकिन जब से ये जेल से बाहर आए हैं धमकी दे रहे हैं कि तेरी वजह से जेल काटी है। अब तुझे नहीं छोड़ेंगे। पुलिस से शिकायत की तो तेजाब से जला देंगे। अब महिला झाँसी एसएसपी से एंटी रोमियो स्क्वॉड की मदद मांग कर रही है।

ये भी देखें : GATE में IETके स्टूडेंट्स का दबदबा, इंस्टीट्यूट के मोंटी अग्रवाल को मिली आल इंडिया रैंक 4

आपको बता दें, ये युवती पिछले 1 वर्ष से अपने पति से अलग रह रही है। चिरगांव के बिरजू कुशवाहा, अतुल वाल्मीकि और गोविंद वाल्मीक उसे कई महीनो से परेशान कर रहे हैं। गंदे-गंदे कमेंट्स पास करते हैं। बाइक से पीछा करते हैं, गंदा काम करने के लिए दबाव बनाते हैं।

ये भी देखें : महाभारत की कई राजकुमारियों ने बनाया था अनैतिक संबंध…वजह है हैरान करने वाली

23 मार्च की शाम इन तीनों ने युवती के साथ गंदा काम करने कि कोशिश की, किसी तरह उसने अपने को इन दरिंदों से बचाया। एसपी देहात सुधा सिंह ने युवती की गुहार पर चिरगांव पुलिस को उसकी सुरक्षा करने और दोषियों के खिलाफ कार्रवाही के आदेश दे दिए हैं

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story