Top

ग्रेटर नोएडा: डीआईजी ऑफिस में दरोगा बताकर युवक ने ठगे 35 लाख रुपये!!

उत्तर-प्रदेश के ग्रेटर नोएडा स्थित कासना से धोखाधड़ी का मामला सामने आया है जहां एक युवक ने डाक कर्मचारी के बेटे से ठेका दिलाने के नाम पर लाखों रुपये की ठगी की।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 24 May 2019 4:36 PM GMT

ग्रेटर नोएडा: डीआईजी ऑफिस में दरोगा बताकर युवक ने ठगे 35 लाख रुपये!!
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

ग्रेटर नोएडा: उत्तर-प्रदेश के ग्रेटर नोएडा स्थित कासना से धोखाधड़ी का मामला सामने आया है जहां एक युवक ने डाक कर्मचारी के बेटे से ठेका दिलाने के नाम पर लाखों रुपये की ठगी की। पीड़ित के मुताबिक आरोपी ने खुद को डीआईजी ऑफिस में दरोगा के पद पर तैनात बताया था। इसके बाद पीड़ित ने अपने साथ हुई ठगी की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच कार्रवाई शुरु कर दी है।

यह भी पढ़ें,,, बागपत पुलिस ने जान पर खेलकर पकडे दो बदमाश, चलीं गोलियां!!!

जानिए ठगी का मामला-

मामला ग्रेटर नोएड़ा का है। जहां कासना कोतवाली क्षेत्र स्थित एडब्ल्यूचओ सोसाइटी निवासी जयवीर सिंह डाक विभाग में कर्मी हैं। जयवीर के मुताबिक उनका छोटा बेटा संजीव, भाटी लेबर में कांट्रेक्टर है। कुछ समय पहले संजीव की मुलाकात विकास श्रीवास्तव से हुई थी। दोनों अच्छे दोस्त बन गए थे। इसी दौरान विकास ने लव कुमार नाम के युवक से संजीव को मिलवाया। लव कुमार ने खुद को लखनऊ के डीआईजी ऑफिस में बतौर दरोगा के पद पर तैनात बताया। पीड़ित के मुताबिक लव कुमार ने उससे सरकारी ठेका दिलाने के नाम पर कई किशतों में 35 लाख रुपये लिए। कुछ समय बाद उसका कोई अता-पता नहीं लगा। पीड़ित ने कई बार फोन से संपर्क करने की कोशिश की। लेकिन उसने फोन उठाना बंद कर दिया है। इसके बाद पीड़ित ने लखनऊ स्थित डीआईजी ऑफिस में संपर्क किया। जहां से जानकारी मिली कि इस नाम का कोई दरोगा तैनात ही नहीं है।

यह भी पढ़ें,,, उत्तर प्रदेश में दो जगह हुई गंभीर गैंगरेप की वारदात!!!

मामले की जांच में जुटी पुलिस-

पीड़ित को अपने साथ ठगी का अहसास हुआ तो उसने मामले की शिकायत एसएसपी वैभव कृष्ण से की। साथ ही पीड़ित ने मोबाइल कॉल रिकॉर्डिंग भी पुलिस को सौंपी। कासना कोतवाली प्रभारी अजय कुमार के मुताबिक पीड़ित की ओर से दी गई तहरीर के आधार पर मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी गई है।

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story