Top

शमशान में पूजा कर लौटे युवक ने लगाई फांसी, काला जादू सीख बनना चाहता था तांत्रिक

By

Published on 5 Oct 2016 10:43 AM GMT

शमशान में पूजा कर लौटे युवक ने लगाई फांसी, काला जादू सीख बनना चाहता था तांत्रिक
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर: तंत्रमंत्र और काला जादू के चक्कर में एक युवक ने बुधवार को फांसी लगा ली। उसने खुद को कमरे में बंद किया और पंखे से लटककर सुसाइड कर लिया। युवक रोजाना शमशान में दो घंटे पूजा करता था। सात माह पहले ही युवक की शादी हुई थी। युवक हरी किसी से भूत—प्रेत और डराने वाली बातें करता था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया है, हालांकि अभी ये नहीं पता चल सका है कि युवक ने सुसाइड क्यों किया। पुलिस छानबीन में जुट गई है।

-नौबस्ता थाना क्षेत्र के संजय गांधी नगर में रहने वाले विनय कुमार पहले हलवाई का काम करता था।

-विनय मूलरूप से कानपुर देहात के श्रवणखेड़ा गांव का रहने वाला था।

-गांधी नगर में उसके साथ पत्नी नीतू ,मां मंजू रहती थीं।

-विनय हलवाई का काम करता था लेकिन पिछले बीस दिनों से वह तंत्रमंत्र की विद्या ले रहा था। वह काला जादू और -तंत्रमंत्र की किताबे पढ़ने लगा और पूजा करने लगा।

मृतक की बहन ने क्या कहा

-मृतक की बहन रीना ने बताया कि विनय की सात माह पहले ही बर्रा की रहने वाली नीतू से शादी हुई थी।

-दोनों का जीवन यापन ठीक चल रहा था वह पांच साल से शादी बारातों में हलवाई का काम करता था।

-लेकिन शादी समारोह का सीजन नहीं चल रहा था तो उसको तंत्रमंत्र सीखने की सनक सवार हो गई।

-वह तंत्रमंत्र की किताबे ढूंढ़-ढूंढ़ कर लाने लगा और घर में अध्ययन करने लगा।

-किताबों में जैसे पूजा की विधि लिखी होती थी उसी तरह वह पूजा करता था।

मृतक की मां मंजू ने बताया

-वह रोजाना शाम को शामसान घाट में पूजा करने जाता था।

-उन्होंने बताया कि बीते मंगलवार की शाम को भी वह शमसान घाट पूजा करने के लिए गया था।

-लेकिन वह कौन से मरघट जाता था इसकी जानकारी उनको नहीं थी।

-उन्होंने बताया कि जब वह शाम को घर लौटा तो उसके पास अगरबत्ती,बताशे और नीबू था।

-विनय का चेहरा बिल्कुल लाल था वह बहुत डरा हुआ था।

-जब उससे पूछा गया कि क्या बात हो गई तो वह पूरे घर को गालियां देने लगा।

-इसके बाद अपने कमरे में चला गया, वह अक्सर घाट से लौटने के बाद कमरे में बंद कर कई घंटे तक पूजा किया करता था।

Next Story