Top

CGBSE 10th Result 2021: परीक्षा में कोई नहीं हुआ फेल, 97% स्टूडेंट्स फर्स्ट डिवीजन

छत्तीसगढ़ बोर्ड ने आज 10 वीं का रिजल्ट घोषित कर दिया है। इस रिजल्ट में 97 % बच्चे फर्स्ट डिवीजन से पास हुए हैं।

Network

NetworkNewstrack Network NetworkShraddhaPublished By Shraddha

Published on 19 May 2021 9:59 AM GMT

छत्तीसगढ़ 10वीं बोर्ड परीक्षा में कोई नहीं हुआ फेल
X

छत्तीसगढ़ 10वीं बोर्ड रिजल्ट फाइल फोटो (सौ. से सोशल मीडिया) 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रायपुर : छत्तीसगढ़ बोर्ड (Chhattisgarh Board) ने आज सुबह 10 वीं का रिजल्ट घोषित कर दिया है। आपको बता दें कि इस रिजल्ट में 97 % बच्चे फर्स्ट डिवीजन (first division) से पास हुए हैं। ऐसा पहली बार हुआ है जब बिना लिखित परीक्षा (Written exam) के रिजल्ट जारी किया गया है। बताया जा रहा है कि इस बार का छत्तीसगढ़ बोर्ड का रिजल्ट इंटरनल असेसमेंट के आधार पर तैयार किया गया है।

आपको बता दें कि स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम ने छत्तीसगढ़ 10 वीं का रिजल्ट ऑनलाइन जारी किया है। इसके साथ इन्होंने बताया कि इस परीक्षा में कुल 4 लाख 61 हजार 93 बच्चों का इंटरनल असेसमेंट किया गया था। जिन बच्चों ने इंटरनल असेसमेंट नहीं दिया उन्हें भी इस बार मिनिमम मार्क्स देकर पास कर दिया गया है। आज छत्तीसगढ़ 10 वीं के रिजल्ट में 4 लाख 46 हजार 393 स्टूडेंट फर्स्ट डिवीजन मार्क्स से पास हुए हैं।


छत्तीसगढ़ में ऐसा पहली बार हुआ है जब बिना लिखित परीक्षा के 97 % स्टूडेंट फर्स्ट डिवीजन से पास हुए हैं। बताया जा रहा है कि आज इस 10 वीं के रिजल्ट में 9 हजार 24 स्टूडेंट सेकंड डिवीजन से पास हुए हैं। वहीं 5,0673 थर्ड डिवीजन से पास हुए हैं। स्कूल शिक्षा मंत्री ने बताया कि इस बार लिखित परीक्षा न होने के कारण मेरिट लिस्ट जारी नहीं की जा रही। इस 10 वीं के रिजल्ट को माध्यमिक शिक्षा मंडल की वेबसाइट cgbse.nic.in पर आसानी से देखा जा सकता है।


स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम ने बताया कि इस बार कोरोना महामारी के चलते लिखित परीक्षा के बिना ही रिजल्ट जारी करना पड़ा है। ऐसे में बताया जा रहा है कि जिन लोगों के मार्क्स सही नहीं आए हैं उनकी रिटोटलिंग और रीचेकिंग नहीं की जाएगी। इसके साथ उन्होंने कहा कि जो लोग अपने मार्क्स से संतुष्ट नहीं हैं उन्हें परीक्षा देने का दूसरा मौका दिया जाएगा।

Shraddha

Shraddha

Next Story