×

IIT कानपुर में चाहते हैं पढ़ना तो इन 6 शॉर्ट टर्म कोर्स में लें दाखिला

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 6 Feb 2016 6:06 AM GMT

IIT कानपुर में चाहते हैं पढ़ना तो इन 6 शॉर्ट टर्म कोर्स में लें दाखिला
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

कानपुर: ग्लोबल इनिशिएटिव फॉर एकेडमिक नेटवर्क (जीआईएएन) के तहत आईआईटी कानपुर को आठ शॉर्ट टर्म कोर्स चलाने की अनुमति मिल गई है। इसका मकसद उच्च, तकनीकी शिक्षा और शोध की गुणवत्ता बढ़ाना है।

विदेशी शिक्षक भी लेंगे क्लास

कोर्स का लाभ बीटेक, बीई, एमटेक, एमई और पीएचडी स्कॉलर, एकेडमिक इंस्टीट्यूट, इंडस्ट्री, रिसर्च इंस्टीट्यूट और ऑर्गेनाइजेशन को मिलेगा। साइंटिफिक टेक्नोलॉजी बढ़ाने और अच्छे विज्ञानियों का समूह बनाने का लक्ष्य भी निर्धारित किया गया है। विदेशी शिक्षक भी कक्षाएं लेंगे और अपना अनुभव और तकनीक के जरिए उद्यमिता विकास का प्लेटफार्म तैयार करेंगे।

मिलेंगी ये सुविधाएं

स्टूडेंट्स को 24 घंटे फ्री इंटरनेट, इंस्ट्रक्शनल मैटेरियल, कंप्यूटर इस्तेमाल और लेक्चर क्लास लेने की छूट, एसाइनमेंट वर्क कराने, लैब, लाइब्रेरी और लेबोरेट्री के इक्विपमेंट को इस्तेमाल की व्यवस्था होगी।

अन्य संस्थानों में भी चलेंगे कोर्स

सभी आईआईटी, आईआईएम, ट्रिपल आईटी, एनआईटी, सेंट्रल यूनिवर्सिटी, आईआईएससी बेंगलुरु, आईआईएसईआर और राज्य विश्वविद्यालयों में भी इसी तरह का शार्ट टर्म कोर्स शुरू किया गया है। इसका मकसद देश की शिक्षा, रिसर्च और टेक्नोलॉजी सिस्टम को मजबूत बनाना है।

1. कैटालॉसिस फॉर एनर्जी स्टोरेज

-6 जून से 15 जून तक कोर्स चलेगा।

- स्विट्जरलैंड लूसियाना के डॉ. एक्सिल ह्यू, आईआईटी के प्रो. जेके बेरा और डॉ. रजा अनगामुथू लेंगे क्लास।

-बाहरी स्टूडेंटों से 500 यूएस डॉलर, इंडस्ट्री और रिसर्च इंस्टीट्यूट से 10 हजार और एकेडमिक इंस्टीट्यूट से 1,000 रुपये फीस ली जाएगी।

2. वैरिएशनल मल्टीस्केल फिनिटी एलिमेंट मेथड इन कांप्यूशनल फ्लूयूड डायनिमिक्स

-4 से 14 मई तक कक्षाएं चलेंगी।

-स्पेन के प्रो. रैमॉन कोडिना और आईआईटी के प्रो. बीवीर रतिश कुमार पढ़ाएंगे।

-बाहरी स्टूडेंटों से 500 यूएस डॉलर, इंस्डस्ट्री, रिसर्च आर्गेनाइजेशन की फीस 30,000 रुपए है।

-एकेडमिक इंस्टीट्यूट से 1000 फीस ली जाएंगी

3. कॉगनेटिव रेडियो वायरलेस कम्युनिकेशन थ्योरी, प्रैक्टिस एंड सिक्योरिटी

-11 से 21 अप्रैल तक कक्षाएं चलेंगी।

- अमेरिका के प्रो. प्रमोद के वार्ष्णेय और आईआईटी के प्रो. आदित्य के जगन्नाथन क्लास लेंगे।

-बाहरी स्टूडेंटों से 500 युएस डॉलर, बीटेक, बीई, एमटेक, एमई और पीएचडी स्कॉलर से 7,500 रुपए लेंगे

-इंजीनियरिंग कॉलेज, यूनिवर्सिटी की फैकल्टी और इंडस्ट्री प्रोफेशनल, पर्सनल और रिसर्च आर्गेनाइजेशन से 8,500 रुपए फीस ली जाएगी।

4. कंबशन साइंस, टेक्नोलॉजी एंड प्रोसेस

-9 से 18 मई तक कक्षाएं लेंगी।

- फ्रांस के प्रो. टेरी प्वाइनसॉट और आईआईटी के प्रो. शांतनु डे लेंगे कक्षाएं।

-बाहरी स्टूडेंटों से 800 यूएस डॉलर, इंडस्ट्री और रिसर्च आर्गेनाइजेशन की फीस 25,000 रुपए प्रति मॉड्यूल

-सभी मॉडयूल की फी 40,000 रुप जमा कराई जाएगी।

5. रिकंस्ट्रक्शन ऑफ द एशियन मानसून सिस्टम, न्यू अप्रोच एंड टेक्निक

-17 से 30 अक्तूबर तक पढ़ाई होगी।

-अमेरिका के प्रो. आशीष सिन्हा और आईआईटी के प्रो. राजीव सिन्हा लेंगे क्लास।

-अभी फीस तय नहीं।

6. फंडामेंटल्स ऑफ माइक्रो मैचिंग।

-15 दिसंबर 2016 से 15 जनवरी 2017 तक कक्षाएं चलेंगी।

-अमेरिका के प्रो. शिव जी कपूर और आईआईटी के प्रो. जे रामकुमार लेंगे क्लास।

-इंडस्ट्री, रिसर्च आर्गेनाइजेशन की बिना फील्ड वर्कशाप फीस 20,000 रुपए।

-एकेडमिक इंस्टीट्यूट से कोई शुल्क नहीं।

- फील्ड वर्कशाप के साथ 30 हजार रुप और एकेडमिक इंस्टीट्यूट से 10,000 रुप फीस ली जाएगी

Newstrack

Newstrack

Next Story