×

5G Network Case: जूही चावला क्यों इस केस में फँसती जा रही, जानिए पूरा मामला

5G Network Case: 5G तकनीक मामले में कोर्ट द्वारा जूही चावला पर 20 लाख रुपये का जुर्माना लगाए जाने के बाद जूही की मुश्किलें अब और बढ़ती जा रही है।

Bishwa Maurya
Published on 21 Jan 2022 12:19 PM GMT
5G Network Case: जूही चावला क्यों इस केस में फँसती जा रही, जानिए पूरा मामला
X

Actress Juhi Chawla

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

5G Network Case: अभिनेत्री जूही चावला की मुश्किलें 5G मामले (5G Network Case) में और ज्यादा बढ़ती जा रही हैं। अब डीएसएलएसएनए ( दिल्ली राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण) ने अभिनेत्री जूही चावला (Juhi Chawla) के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट में एक याचिका दायर किया है। इस याचिका पर दिल्ली हाई कोर्ट अगले महीने सुनवाई करेगा। जूही चावला ने 5G वॉयरलैस नेटवर्क के स्थापना के खिलाफ एक मुकदमा दायर किया था। जिसमें जूही ने कहा था कि इस तकनीक से पशुओं पक्षियों और इंसानों पर बहुत गहरा बुरा प्रभाव पड़ेगा।

अभिनेत्री जूही चावला के इस याचिका पर सुनवाई करते हुए दिल्ली हाईकोर्ट ने जूही चावला पर ही ₹2000000 का जुर्माना लगा दिया कोर्ट ने कहा की याचिकाकर्ता कानून का दुरुपयोग कर रही हैं। बता दें जिस दिन इस मुकदमे पर दिल्ली हाईकोर्ट में सुनवाई होने वाली थी। उस वक्त सुनवाई का लिंक सोशल मीडिया पर जूही चावला ने शेयर कर दिया। जिसके कारण सुनवाई में कई बार व्यवधान पैदा हुआ। जिसके बाद कोर्ट ने जूही चावला की याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि जैसे याचिकाकर्ता पब्लिसिटी बटोरने के लिए कानून का गलत इस्तेमाल कर रही हैं।

दिल्ली हाईकोर्ट के सिंगल बेंच द्वारा जूही चावला पर जुर्माना लगाए जाने के फैसले को जूही चावला ने हाई कोर्ट की डबल बेंच के लिए एक याचिका दायर किया है। इस मामले पर दिल्ली हाईकोर्ट में 25 जनवरी को फिर सुनवाई होगी। इस 5जी मामले में जूही चावला के वकील सलमान खुर्शीद (Salman Khursid) ने कहा कि दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) के खंडपीठ ने किसी अधिकार क्षेत्र के बिना कानून के विपरीत जूही चावला पर जुर्माना लगाया है।

गौरतलब है कि पिछले साल जून महीने में अभिनेत्री जूही चावला ने 5G तकनीक के स्थापना के खिलाफ यह कहते हुए कोर्ट में याचिका दायर किया था की 5G तकनीक के आने से पशु, पक्षियों और इंसानों पर इसका बेहद खतरनाक असर होगा।

Bishwa Maurya

Bishwa Maurya

Next Story