फिल्म ‘पटाखा’ से निकली चिंगारी या हो गई फुस्स, जानिए इसका REVIEW

Published by suman Published: September 29, 2018 | 10:16 am

मुंबई:  राजस्थान के एक छोटे से गांव में बेस्ड विशाल भारद्वाज की फिल्म ‘पटाखा’  रिलीज हो गई है। ये  दो बहनों चंपा उर्फ बड़की (राधिका मदान) और गेंदा उर्फ छुटकी (सान्या मल्होत्रा) की कहानी है, जो एक दूसरे से दूर होना चाहती हैं, लेकिन किस्मत उन्हें फिर साथ ले आती है।

स्क्रिप्ट : फिल्म की कहानी राजस्थान के एक गांव की है, जहां शशि भूषण (विजय राज) अपनी दो बेटियां बड़की (राधिका मदान) और छुटकी (सान्या मल्होत्रा) के साथ रहता है। दोनों हमेशा आपस में लड़ती रहती हैं। अक्सर इन दोनों के बीच की लड़ाई का कारण डिप्पर (सुनील ग्रोवर) ही होता है, जो दोनों का एक दूसरे के खिलाफ कान भरता रहता है। कहानी में ट्विस्ट तब आता है, जब बड़की अपने बॉयफ्रेंड जगन (नमित दास) और छुटकी अपने बॉयफ्रेंड विष्णु (अभिषेक दुहान) के साथ भाग जाती हैं, लेकिन दोनों एक ही घर में शादी के बाद पहुंच जाती हैं, क्योंकि विष्णु और जगन सगे भाई हैं। अब आगे कहानी कहां जाती है और इसका अंत क्या होता है?

 

Bigg Boss 12: इस हफ्ते घर से बेघर हो सकते हैं ये 2 कंटेस्टेंट!
फिल्म की कमजोर कड़ी इसका इंटरवल के बाद का हिस्सा है जिसकी रफ़्तार धीमी है। फिल्म रिलीज से पहले कोई गाना भी बड़ा हिट नहीं हुआ है, जो शायद ज्यादा से ज्यादा ऑडियंस को थिएटर तक ले जाने में सहायक साबित होता।

फिल्म का बजट लगभग 12  करोड़ बताया जा रहा है। सूत्रों के मुताबिक रि‍लीज से पहले ही डिजिटल, म्यूजिक और सैटेलाइट के साथ इस फिल्म ने अपनी कॉस्ट रिकवर कर ली है और जो भी वीकेंड की कमाई होगी, वो प्रॉफिट साबित होने वाली है।