दीपिका पादुकोण- ऐसा है इंटरनेशनल लेवल पर बॉलीवुड को लेकर लोगों का रिएक्शन, जानकर…

Published by May 21, 2017 | 9:16 am
deepika padukone

मुंबई: बॉलीवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का कहना है कि भारतीय सिनेमा भले ही नाच-गाने से परे चली गई हो, लेकिन अंतर्राष्ट्रीय दर्शकों के लिए यह प्रभावित करने वाले चरित्र का अभी भी सांस्कृतिक प्रतिबिंब है। दीपिका बुधवार को कान्स फिल्म महोत्सव 2017 में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मशहूर सौंदर्य ब्रांड लॉरियल पेरिस के प्रतिनिधि के रूप में रेड कॉर्पेट पर नजर आईं।

भारतीय दर्शकों के साथ एक वीडियो कॉल के दौरान दीपिका ने भारतीय सिनेमा के प्रति अंतर्राष्ट्रीय दर्शकों की धारणा के बारे में बात की।

दीपिका के मुताबिक, “मुझे लगता है कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारतीय सिनेमा के प्रति लोगों की धारणा संस्कृति, गाने, नाचने और इसे भव्यता और बड़े पैमाने पर पेश किए जाने के बारे में है, उनके लिए अभी भी यह प्रभावित करने वाले चरित्रों के बारे में है। ऐसे सिनेमा प्रेमी हैं जो हमारी सिनेमा से बखूबी परीचित हैं, जो इससे परे भी हैं।”

अभिनेत्री ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय दर्शकों को भारतीय सिनेमा से परिचित कराने के लिए बहुत कुछ है।

दीपिका ने बताया कि वह अभिनेत्री सुजन सैरनडॉन से बात कर रही थी जिन्होंने यह बताया कि उनका बेटा एक फिल्म बना रहा है, जिसमें उसने भारतीय शैली के नृत्य को डाला है, तो उनकी भारतीय सिनेमा के प्रति यह धारणा है।

हाल ही में मेटगाला में प्रियंका चोपड़ा को अपने परिधान के लिए आलोचना का सामना करना पड़ा था। दीपिका से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वह खुद को किसी दूसरे के ड्रेस पर टिप्पणी करने लायक विशेषज्ञ नहीं मानती हैं। उन्होंने कहा कि इस बात का सम्मान किया जाना चाहिए कि फैशन अभिव्यक्ति का एक तरीका है।

दीपिका ने कहा कि फिल्म ‘पीकू’ पर उन्हें गर्व है और वह इसे कान्स फिल्म महोत्सव में दिखाया जाना पसंद करेंगी।

अभिनेत्री ने कहा कि उन्हें यहां घबराहट या किसी किस्म का दबाव नहीं महसूस हो रहा है और लोगों से मिलना-जुलना अच्छा लग रहा है। उन्होंने बताया कि हॉलीवुड अभिनेत्रियों जूलियन मूर और सुजन सैरनडॉन ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया और वे बहुत विनम्र और प्रभावशाली महिलाएं हैं।

सौजन्य: आईएएनएस