Top

जोहरा को Google का Doodle : बाॅलीवुड की पहली एक्ट्रेस, मिला था सबसे बड़ा अवार्ड

गूगल ने अपने डूडल में उनके क्लासिकल डांस वाले पोज की तस्वीर बनाई है और इसे चारों तरफ से रंग-बिरंगे फूलों से सजाया है। जोहरा सहगल पर बनाए गए इस स्पेशल डूडल को आर्टिस्ट पार्वती पिल्लई ने डिजाइन किया है।

Suman

SumanBy Suman

Published on 29 Sep 2020 5:08 AM GMT

जोहरा को Google का Doodle : बाॅलीवुड की पहली एक्ट्रेस, मिला था सबसे बड़ा अवार्ड
X
जोहरा सहगल बॉलीवुड की उन अभिनेत्रियों में से हैं, जिन्होंने पृथ्वीराज कपूर से लेकर रणबीर कपूर संग अपनी एक्टिंग के जलवे बिखेरे।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुंबईः किसी भी महान हस्ती की याद में गूगल सम्मान डूडल के जरिए देता है। और दुनिया की महान और खास शख्सियत को याद करता है। गूगल ने आज भारत की सबसे फेमस एक्ट्रेस और डांसर जोहरा सहगल का शानदार डूडल बनाया है। जोहरा एक एक्ट्रेस, डांसर और कोरियाग्राफर थीं। वह भारत की पहली महिला कलाकार रही हैं, जिन्हें अंतरराष्ट्रीय मंचों पर पहचान मिली। गूगल ने अपने डूडल में उनके क्लासिकल डांस वाले पोज की तस्वीर बनाई है और इसे चारों तरफ से रंग-बिरंगे फूलों से सजाया है। जोहरा सहगल पर बनाए गए इस स्पेशल डूडल को आर्टिस्ट पार्वती पिल्लई ने डिजाइन किया है।

johra sehgal फाइल फोटो

जोहरा सहगल का पूरा नाम साहिबजादी जोहरा बेगम मुमताज उल्लाह खान

जोहरा सहगल का जन्म 27 अप्रैल 1912 में हुआ था और 102 वर्ष की आयु में उन्होंने 14 जुलाई 2014 में नई दिल्ली में अंतिम सांस ली। जोहरा सहगल का पूरा नाम साहिबजादी जोहरा बेगम मुमताज उल्लाह खान था। वह एक पारंपरिक मुस्लिम परिवार से थीं। जोहरा सहगल ने लाहौर के क्वीन मैरी कॉलेज से पढ़ाई की थी। यहां महिलाओं को पर्दे में रखा जाता था। क्वीन मैरी से अपनी पढ़ाई करने के बाद जोहरा सहगल एक्टिंग की ट्रेनिंग लेने के लिए ब्रिटेन और फिर डांस की ट्रेनिंग के लिए जर्मनी चली गईं। उन्होंने अपनी 20 साल की उम्र तक जर्मनी के ड्रेसडेन में बैलेट स्कूल से पढ़ाई की। भारत लौटने के बाद उन्होंने एक्टिंग में हाथ आजमाया और 1945 में इंडियन पीपुल्स थिएटर्स एसोसिएशन में शामिल हुई हैं।

यह पढ़ें....दिल्ली में हाथरस गैंगरेप पीड़िता की सफदरजंग अस्पताल में मौत

कोरियोग्राफी में जोहरा सहगल का नाम

फिल्म 'नीचा नगर' में जोहरा ने बहुत यादगार रोल किया था। यह फिल्म साल 1946 में कान्स फिल्म फेस्टिवल में दिखाई गई थी। इसे भारतीय सिनेमा की पहली इंटरनेशन क्रिटिकल सक्सेस मिली। 'नीचा नगर' को फेस्टिवल का सर्वोच्च सम्मान द पाल्मे डी ओर प्राइज मिला।" जहां बाजी, सीआईडी और आवारा जैसी फिल्मों में कोरियोग्राफी के लिए जोहरा सहगल का नाम हुआ था। तो वहीं कई फिल्मों में अपनी शानदार एक्टिंग के लिए भी पहचानी जाती हैं। जोहरा सहगल बॉलीवुड की उन अभिनेत्रियों में से हैं, जिन्होंने पृथ्वीराज कपूर से लेकर रणबीर कपूर संग अपनी एक्टिंग के जलवे बिखेरे।

यह पढ़ें....Hathras Gangrape: हाथरस में सामूहिक दुष्कर्म की शिकार युवती ने सफदरजंग अस्पताल में तोड़ा दम

अतुलनीय योगदान

उदय शंकर की मंडली में कोरियोग्राफर के तौर पर जोहरा सहगल ने काम करना शुरू किया। 1935 से 1943 तक, वह इस उदय शंकर की मंडली में प्रमुख डांसर बन चुकी थीं और उन्होंने संयुक्त राज्य अमेरिका और जापान सहित दुनिया भर में प्रदर्शन किया। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिलने के बाद वह 1962 में लंदन चली गईं और 'डॉक्टर व्हू' जैसे क्लासिल ब्रिटिश टीवी शो और 1984 मिनीसीरीज 'दी ज्वैल इन द क्राउन' में काम किया। जोहरा सहगल को 1998 में पद्मश्री, 2001 में कालीदास सम्मान और 2010 में पद्म विभुषण से सम्मानित किया गया। भारतीय सिनेमा जगत और डांस की दुनिया में उनके अतुलनीय योगदान के लिए उन्हें पद्म श्री, पद्म भूषण और पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया।

Suman

Suman

Next Story