×

Indian Idol 12 winner Pawandeep Rajan: कौन हैं पवनदीप राजन, जिसने जीता है 'इंडियन आइडल 12' का खिताब

Indian Idol 12 winner Pawandeep Rajan: 12 घंटे चले इस फिनाले एपिसोड में कई मशहूर हस्तियां शामिल हुईं । साथ ही बड़े बड़े दिग्गजों ने अपनी गायकी से समा बांधा ।

Network
Newstrack NetworkPublished By Monika
Updated on: 2021-08-16T15:25:08+05:30
Pawandeep Rajan winner indian idol 12
X

पवनदीप राजन (फोटो : सोशल मीडिया ) 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Indian Idol 12 winner Pawandeep Rajan: छोटे पर्दे का पॉपुलर रियलिटी शो 'इंडियन आइडल 12' (Indian Idol 12) का रविवार को ग्रैंड फिनाले खत्म हो चूका हैं, इसी के साथ इंडियन आइडल 12 के विजेता पवनदीप राजन रहे । जीत का कप अपने नाम करते ही सोशल मीडिया पर हर तरफ पवनदीप राजन की तस्वीरें वायरल हो गई । ग्रैंड फिनाले से पहले ही लोगों ने पवनदीप राजन को अपना विजेता मान लिया था, लेकिन जब पवनदीप सच में इंडियन आइडल 12 के विजेता बने तो लोगों की ख़ुशी का ठिकाना ही नहीं रहा ।

12 घंटे चले इस फिनाले एपिसोड में कई मशहूर हस्तियां शामिल हुईं । साथ ही बड़े बड़े दिग्गजों ने अपनी गायकी से समा बांधा । दर्शक ही नहीं जजों के दिलों पर भी राज करने वाले पवनदीप आखिर हैं कौन? कैसे वो इस लाइन में आए ? चलिए जानते हैं इनके बारे में सब कुछ ।

पवनदीप राजन (फोटो : सोशल मीडिया )

कौन है पवनदीप राजन? (Kaun hai Pawandeep Rajan?)

27 जुलाई 1996 उत्तराखंड के चम्पावत में पवनदीप राजन का जन्म हुआ । बचपन से ही पवनदीप को गाने का शौक रहा है । 'इंडियन आइडल 12' के वो एक ऐसे कंटेस्टेंट रहे, जिन्हें लगभग सभी म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट बजाने आते हैं । इससे पहले भी पवनदीप 2015 में 'द वॉइस ऑफ इंडिया' सिंगिंग रियलिटी शो जीता चुके हैं । जिसके बाद 'इंडियन आइडल 12' का कप भी अपने नाम किया।

पवनदीप राजन (फोटो : सोशल मीडिया )

पवनदीप राजन जीवन परिचय (Pawandeep Rajan jeevan parichay)

छोटी उम्र से ही पवनदीप ने संगीत को अपना सब कुछ मान लिया था । उनके पिता प्रसिद्ध कुमाऊनी गायक हैं, जिन्होंने अपने बेटे की गायन में काफी मदद की और उनकी सफलता के लिए काफी कुछ किया । पवनदीप ने अपनी गायकी को अपना करियर बनाने के लिए उत्तराखंड से चंडीगड़ का सफ़र तय किया ।

जिसके बाद 2015 में 'द वॉइस ऑफ इंडिया' में भाग लिया और अपनी आवाज का जादू जजों पर ऐसा चलाया कि उन्होंने ये शो जीत लिया । इस शो को जीतने पर उन्हें कई पुरस्कार भी भेट किए गए । साथ ही म्यूजिक लेबल यूनिवर्सल के साथ अपना पहला गाना भी रिकॉर्ड करने का मौका दिया गया ।

पवनदीप के पिता के साथ उनके ताऊ भी गयाक रहे दोनों ने मिल कर उन्हें सिखाया है । दादा स्व. रति राजन भी एक प्रसिद्ध लोकगायक थे। उन्हें विरासत में सुरीली आवाज मिली है ।

पवनदीप की संजीत के प्रति प्रेम देख कर उनके पिता ने अपने बेटे को छोटी उम्र में ही तबला गिफ्ट किया था । तब से वो तबला बजाते है । यही नहीं ऐसी शायद ही कोई चीज़ हो जिसे वो बजाना ना जानते हो । पियानो , कीबोर्ड , ढोलक,ड्रम और गिटार जैसे कई म्यूजिकल इंस्ट्रमेंट बजा लेते हैं ।

पवनदीप राजन (फोटो : सोशल मीडिया )

पुरस्कार और उपलब्धियां (Awards and Achievements)

पवनदीप उत्तराखंड के जानेमाने सिंगर और म्यूजिक डायरेक्टर हैं । इन्होने अपने पिता से ही संगीत की प्रारंभिक शिक्षा ली है । 2015 द वॉइस ऑफ इंडिया' में खिताब जीता । जिसके बाद 2021 में इंडियन आइडल 12 के विजेता बन गए हैं । खबरों की माने तो पवनदीप अब तक 12 देशों में के साथ भारत में 14 राज्यों में शोज किए हैं। कुल मिलाकर अब तक उन्होंने 1200 शो किए हैं।

Monika

Monika

Next Story