×

बॉलीवुड में दर्द का पहला गायक , जिसकी लता मंगेशकर भी हैं फैन

पंद्रह साल के करियर में सहगल ने 36 फीचर फिल्मों में अभिनय किया। जिसमें से 28 हिंदी फिल्म , सात बंगाली और एक तमिल थी। इसके अलावा उन्होंने 1933 में प्रदर्शित एक छोटी कॉमेडी हिंदी फिल्म दुलारी बीबी में अभिनय किया।

Shraddha Khare
Updated on: 18 Jan 2021 6:21 AM GMT
बॉलीवुड में दर्द का पहला गायक , जिसकी लता मंगेशकर भी हैं फैन
X
बॉलीवुड में दर्द का पहला गायक , जिसकी लता मंगेशकर भी हैं फैन photos (social media)
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

मुंबई : भारतीय गायक और अभिनेता के रूप में याद किए जाने वाले कुंदन लाल सहगल, जिन्हें हम केएल सहगल के रूप में भी जानते हैं। आपको बता दें कि आज के दिन यानी 18 जनवरी 1947 को यह गायक दुनिया को अलविदा कह दिए थे। केएल सहगल को हिंदी फिल्म उद्योग का पहला सुपरस्टार माना जाता है। इनके पुण्यतिथी पर इनकी जीवन से जुड़ी कुछ खास बाते जानते हैं।

संगीतकार के एल सहगल का जन्म

के एल सहगल का जन्म 11 अप्रैल 1904 को जम्मू में एक पंजाबी परिवार में हुआ था। उनके पिता अमरचंद सहगल जम्मू और कश्मीर के महाराजा प्रताप सिंह के दरबार में तहसीलदार थे, जबकि उनकी मां केसरबाई सहगल एक गहरी धार्मिक हिंदू महिला थीं, जिन्हें संगीत का बहुत शौक था। वह अपने युवा बेटे के एल सहगल को धार्मिक कार्यों में ले जाती थी जहां शास्त्रीय भारतीय संगीत पर आधारित पारंपरिक शैलियों में भजन, कीर्तन और शबद गाए जाते थे।

आर्थिक स्थिति सही न रहने के कारण पढ़ाई छोड़ दी थी

के एल सहगल ने परिवार की आर्थिक स्थिति सही न रहने के कारण उन्होंने स्कूल छोड़ दिया और रेलवे टाइमकीपर के रूप में काम करके पैसा कमाना शुरू कर दिया। बाद में उन्होंने रेमिंगटन टाइपराइटर कंपनी के लिए एक टाइपराइटर सेल्समैन के रूप में काम किया, जिसने उन्हें भारत के कई हिस्सों का दौरा करने की अनुमति दी। के एल की मुलाकात मेहरचंद जैन से हुई। जो आगे चलकर उनके बहुत अच्छे दोस्त साबित हुए और इनके गायिकी के करियर में इनके दोस्त मेहरचंद का बड़ा सहयोग मिला।

फिल्म स्टूडियो न्यू थियेटर्स में किया काम

1930 के दशक की शुरुआत में शास्त्रीय संगीतकार और संगीत निर्देशक हरिश्चंद्र बाली ने के.एल. सहगल को कलकत्ता और आर सी बोराल से मिलवाया। आर.सी. बोरल ने इनकी प्रतिभा को देखकर तुरंत पसंद कर लिया। आपको बता दें कि बी.एन. सिरकार के इन्हें कलकत्ता स्थित फिल्म स्टूडियो न्यू थियेटर्स में काम पर रख लिया। जिसमें इन्हें 200 प्रति माह रुपये मिलते थे।

k l sahgal

ये भी पढ़ें : शाहिद का नाम लेकर चिढ़ा रहे थे रणबीर, प्रियंका ने ऐसे कर दी बोलती बंद

फिल्मी करियर की शुरुआत

के एल सहगल की आवाज को इंडियन ग्रामोफोन कंपनी ने इनके रिकॉर्ड को रिलीज़ किया, जिसमें इन्होंने पंजाबी गाने गाए थे। जिसकी रचना हरिश्चंद्र बाली ने की थी। इस तरह बाली सहगल का पहला संगीत निर्देशक बन गया। पहली फ़िल्म जिसमें सहगल की भूमिका थी वह फ़िल्म मोहब्बत के अनसू थी उसके बाद सबा के सितार और ज़िंदा लैश थी। जो 1932 में रिलीज हुई थी। हालांकि ये फिल्में बहुत अच्छा प्रदर्शन नहीं नहीं दिखा सकीं। आपको बता दें कि सहगल ने अपनी पहली तीन फिल्मों के लिए सहगल कश्मीरी नाम का इस्तेमाल किया था और याहुदी की लद्की (1933) से अपने ही नाम कुंदन लाल सहगल (के एल सहगल) का इस्तेमाल किया। इसके बाद 1933 में फिल्म पूरन भगत के लिए सहगल द्वारा गाए गए चार भजन पूरे भारत में लोकप्रिय हो गए। इसके बाद की अन्य फिल्में याहुदी की लाडकी, चंडीदास, रूपलेखा और करवान-ए-हयात थी।

36 फीचर फिल्मों में किया अभिनय

पंद्रह साल के करियर में सहगल ने 36 फीचर फिल्मों में अभिनय किया। जिसमें से 28 हिंदी फिल्म , सात बंगाली और एक तमिल थी। इसके अलावा उन्होंने 1933 में प्रदर्शित एक छोटी कॉमेडी हिंदी फिल्म दुलारी बीबी में अभिनय किया। 1955 में बी.एन. सिरकार ने के एल के जीवन पर आधारित एक डॉक्यूमेंट्री फिल्म रिलीज़ की। आपको बता दें कि सहगल ने अमर सहगल फिल्म में काम किया। इस फिल्म में मुंगेरी ने सहगल की शीर्षक भूमिका निभाई। इस फिल्म में सहगल की फिल्मों से 19 गाने थे। सभी में सहगल ने 185 गीतों का प्रतिपादन किया जिसमें 142 फिल्मी गीत और 43 गैर-फिल्मी गीत शामिल हैं।

devdas film

के एल सहगल का निधन

आपको बता दें कि सहगल के जीवन में शराब एक प्रमुख कारक बन गया था। शराब पर उनकी निर्भरता ने उनके काम और उनके स्वास्थ्य को प्रभावित करना शुरू कर दिया था। यह कहा गया था कि वह शराब के साथ मज़बूत होने के बाद ही एक गाना रिकॉर्ड कर सकते थे। वह अपने शराब पीने के दस साल तक जीवित रहे और 18 जनवरी 1947 को अपने पैतृक शहर जालंधर में 42 साल की उम्र में सहगल का निधन हो गया।

ये भी पढ़ें : Bigg Boss 14: दर्दनाक हादसे में टैलेंट मैनेजर की मौत, शोक में डूबे सितारे

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shraddha Khare

Shraddha Khare

Next Story