कनिका की हालत स्थिर, पुलिस के हाथ लगी उनके दोस्त की रिपोर्ट निगेटिव

कनिका कपूर की दोबारा हुई रिपोर्ट में फिर से हाई लोड़ कोरोना पॉजीटिव पाए जाने के बाद अब उनकी हालत स्थिर बनी हुई हैं। यह रिपोर्ट मंगलवार को देर रात आई। इससे पहले कनिका का 22 मार्च को टेस्ट हुआ था। यह रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई थी। इस बीच कनिका के एक दोस्त की तलाश पुलिस ने कर ली है।

Published by suman Published: March 25, 2020 | 6:38 pm
Modified: March 25, 2020 | 6:54 pm

लखनऊ:  कनिका कपूर की दोबारा हुई रिपोर्ट में फिर से हाई लोड़ कोरोना पॉजीटिव पाए जाने के बाद अब उनकी हालत स्थिर बनी हुई हैं। यह रिपोर्ट मंगलवार को देर रात आई। इससे पहले कनिका का 22 मार्च को टेस्ट हुआ था। यह रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई थी। इस बीच कनिका के एक दोस्त की तलाश पुलिस ने कर ली है। लखनऊ में आयोजित जिस पार्टी में कनिका गई थीं, उसमें उनका यह दोस्त मौजूद था। उसके बाद से वह लापता हो गया था। कनिका के इस दोस्त का नाम ओजस देसाई है।

कनिका की पार्टी में ओजस के साथ राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और उनके सांसद बेटे दुष्यंत सिंह, यूपी के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह भी मौजूद थे। पुलिस ने ओजस को पकड़ने के बाद उनका कोविड 19 का टेस्ट करवाया, जिसमें वह नेगेटिव पाए गए। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, ओजस ने पार्टी के बाद खुद को क्वारंटीन कर लिया था। उन्होंने अब भी खुद को क्वारंटाइन किया हुआ है।

यह पढ़ें…कोरोना वायरस: जानिए क्यों भड़के अक्षय कुमार, कहा- जान सूखी हुई है

कनिका इस वक्त लखनऊ के संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (एसजीपीजीआई) में भर्ती हैं। वहां उन्हें आइसोलेशन में रखा गया है। एसजीपीजीआई के निदेशक प्रोफेसर आर के धीमान ने कहा कि कनिका के लगातार दो टेस्ट पॉजिटिव पाए गए हैं। उनका ट्रीटमेंट तब तक चलता रहेगा जब तक कम से कम दो टेस्ट नेगेटिव न आ जाएं। कुछ दिन पहले कनिका ने अस्पताल प्रशासन पर आरोप लगाया था कि उनके साथ अपराधी जैसा व्यवहार किया जा रहा है। उन्होंने मच्छर काटने और पानी भी उपलब्ध न होने की शिकायत की थी। इस पर वहां के डॉक्टरों का बयान आया था कि उनके लिए कोई स्पेशल नियम नहीं हैं। कनिका के साथ भी आम मरीजों की तरह व्यवहार होगा। कनिका द्वारा उनके कोरोना संक्रमित होने की बात छिपाने पर उनके खिलाफ चार एफआईआर भी दर्ज है।