×

ओ तेरी! ये है कैटरीना कैफ और रणबीर कपूर के ब्रेकअप की कहानी

कैटरीना कैफ और रणबीर कपूर की रासलीला के एक समय सबसे अधिक चर्चे थे लेकिन दोनों का रिश्ता बिना किसी मंजिल पर पहुंचे समाप्त हो गया। इसके बाद कैटरीना पूरी तरह से टूट गईं। हालांकि दोनों इस पर कुछ भी कहने से बचते रहे हैं।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 29 April 2019 4:11 PM GMT

ओ तेरी! ये है कैटरीना कैफ और रणबीर कपूर के ब्रेकअप की कहानी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

मुंबई : कैटरीना कैफ और रणबीर कपूर की रासलीला के एक समय सबसे अधिक चर्चे थे लेकिन दोनों का रिश्ता बिना किसी मंजिल पर पहुंचे समाप्त हो गया। इसके बाद कैटरीना पूरी तरह से टूट गईं। हालांकि दोनों इस पर कुछ भी कहने से बचते रहे हैं। वहीं अब कैटरीना ने अपना पक्ष सबके सामने रखा है।

ये भी देखें : ब्रेकअप के 3 साल बाद रणबीर ने कैटरीना को लगाया गले,आलिया का क्या होगा रिएक्शन

कैटरीना ने कहा, नए पायदान पर जाने के लिए पिछला पायदान छोड़ना होता है। इस रिश्ते के खत्म होने में जो भी कुछ वजह है उसमें मैं अपने हिस्से की जिम्मेदारी ले सकती हूं कि मेरी तरफ से क्या कमी रह गई, लेकिन दूसरे इंसान की जिम्मेदारी मैं नहीं ले सकती।

ये भी देखें : रिलेशनशिप में नहीं आना चाहती हैं कैटरीना कैफ

उन्होंने कहा, जब मैं अपने जीवन के सबसे बुरे दौर से गुजर रही थी, तब मेरी मां ने मुझे समझाया और बताया कि जो मेरे साथ हो रहा है, वो दुनिया की कई सारी लड़कियों के साथ हो रहा है। इस तरह के दुख सहने वाली मैं अकेली नहीं हूं। इसके बाद मुझे थोड़ी तसल्ली मिली और मैं जिंदगी में आगे बढ़ने लगी।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story