×

फिल्म पद्मावत के रिलीज पर UP में हाई अलर्ट, की गुंडई तो होगी कार्रवाई

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 25 Jan 2018 3:40 AM GMT

फिल्म पद्मावत के रिलीज पर UP में हाई अलर्ट, की गुंडई तो होगी कार्रवाई
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ : 'पद्मावत' को लेकर देश भर में जारी हिंसक झड़पों के बीच एडीजी कानून-व्यवस्था आनन्द कुमार ने प्रदेश भर पुलिस को अलर्ट पर रहने को कहा है। एडीजी ज़ोन, आईजी/डीआईजी रेंज व पुलिस कप्तानों को बाक़ायदा चिठ्ठी लिख कर सिनेमाहाल, माल, मल्टीप्लेक्स की सुरक्षा के मद्देनज़र प्रबंधकों से बातचीत कर सुरक्षा व्यवस्था सख्त करने को कहा है।

पद्मावत का विरोध लखनऊ समेत प्रदेश के कई ज़िलों में हुआ ऐसे में खुफिया एजेंसियों को भी ख़ास सतर्कता बरतने को कहा गया है। और क़ानून व्यवस्था खराब करने की कोशिश करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के लिए कहा गया है।

ये भी देखें :4 राज्यों में नहीं होगी फिल्म की स्क्रीनिंग,फिल्म पद्मावत का विरोध और बवाल जारी

पद्मावत को लेकर जारी हंगामे के बीच यूपी में अफसरों को ख़ास सतर्कता बरतने को कहा गया है। एडीजी कानून-व्यवस्था आनन्द कुमार ने थाना प्रभारी, क्षेत्राधिकारी, अपर पुलिस अधीक्षक के साथ ही अफसरों को लगातार फील्ड में बने रहने को कहा है। ताकि हर छोटी बड़ी घटना पर खुद अफसरों निगाह रहे। एलआईयू के अधिकारियों, कर्मचारियों को शरारती तत्वों पर कड़ी नजर रखने की सख्त हिदायत जारी की गई है।

पुलिस अफसरों को उन संगठनों से बातचीत करने को भी कहा गया जो इस फिल्म के प्रदर्शन का विरोध कर रहे हैं। ताकि शांतिपूर्ण विरोध के अतिरिक्त कानून-व्यवस्था किसी भी स्थिति में खराब न होने पाए। खुफिया एजेंसियों से पुलिस को इनपुट मिला है कि कुछ राजनीतिक संगठन भी इस मामले को और ज़्यादा हिंसक रूप देने की कोशिश कर सकते हैं ऐसे में राजनितिक दलों के नेताओं की गतिविधियों पर भी निगाह रखने को कहा गया है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story