रिया देती थीं ओवरडोज! सुशांत को बना रही थी मानसिक रोगी, बिहार पुलिस का दावा

बिहार सरकार ने भी सुप्रीम कोर्ट सुशांत सिंह राजपूत केस में लफनामा दाखिल किया है। इसमें रिया पर सुशांत को ओवरडोज देने का आरोप लगाया गया।

Rhea chakraborty

पटना: बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत केस में नया मोड़ आया है। बताया जा रहा है कि रिया चक्रवर्ती सुशांत को दवाइयों का ओवरडोज दे रही थीं। मामले में बिहार सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफ़नामा देते हुए आरोप लगाया कि पैसों के लिए रिया ने अभिनेता सुशांत को मानसिक रोगी बताया और उन्हें अपने घर ले जाकर ओवर डोज दिया।

बिहार सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल किया हलफनामा

बिहार पुलिस ने सुशांत सिंह राजपुर केस में जांच शुरू की तो कई नई बातें सामने आई। एक ओर तो बिहार पुलिस ने रिया पर सुशांत को ओवरडोज देने का आरोप लगाया, तो वहीं बिहार सरकार ने भी सुप्रीम कोर्ट में इस बाबत हलफनामा दाखिल कर रिया और उनके परिवार पर गंभीर आरोप लगाए।

सुशांत केस: रिया को लगा झटका, ED ने कहा- पूछताछ के लिए आज ही आना होगा

सुशांत राजपूत केस में रिया चक्रवर्ती पर लगाए बड़े आरोप

नीतीश सरकार के हलफनामे में कहा गया कि रिया और उनका परिवार सुशांत के जीवन में पैसों की लालच से आये थे। बिहार पुलिस की जांच के मुताबिक, रिया और उनका परिवार सुशांत के पैसे हड़पने के लिए उनके संपर्क में आया और बाद में एक्टर की मानसिक बीमारी का एक झूठा जाल फैलाया।

ये भी पढ़ेंः सुशांत केस: रिया को लगा झटका, ED ने कहा- पूछताछ के लिए आज ही आना होगा

रिया चक्रवर्ती ने दिया सुशांत को दवाओं का ओवरडोज

बिहार के एसपी का ने सुप्रीम कोर्ट को दाखिल हलफनामे के तहत बताया कि रिया, सुशांत को अपने घर ले गई थीं, जहां उन्हें दवाईयों के ओवरडोज देने शुरू किये गए। कहा गया कि ये आरोप सुशांत के पिता के के सिंह ने रिया पर लगाए। इतना ही नहीं ये भी बताया कि रिया, सुशांत से झगड़ा कर उनके घर से सारा कीमती सामान, केस, कार्ड और जरुरी दस्तावेज लेकर चली गयीं।

सुशांत केस: रिया को लगा झटका, ED ने कहा- पूछताछ के लिए आज ही आना होगा

सीबीआई को सुशांत केस की जाँच सौंपने की सलाह

वहीं बिहार पुलिस ने ये भी बताया कि इस केस में जांच को लेकर मुंबई पुलिस ने किसी तरह की मदद नहीं की, बावजूद इसके बिहार से जांच के लिए पहुंची टीम के सामने कई आई बातें आईं हैं, जिनको नजरअंदाज नहीं किया जा सकता और जांच योग्य हैं। हलफनामे में सुप्रीम कोर्ट को सलाह दी गयी कि सीबीआई को मामले की जांच देनी चाहिए।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App