Top

रजनीकांत पर प्रकाश जावेड़कर का एलान, मिलेगा दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा हमें खुशी है कि देश के सभी भागों से फिल्मकार, अभिनेता, अभिनेत्री, गायक,संगीतकार सभी लोगों को समय समय पर दादा साहब फाल्के अवॉर्ड मिला है।

Suman

SumanBy Suman

Published on 1 April 2021 5:36 AM GMT

रजनीकांत पर प्रकाश जावेड़कर का  एलान, मिलेगा दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड
X

सोशल मीडिया से फोटो

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जयपुर: साउथ फिल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत को 51वां दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। आज केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडे़कर ने इसकी घोषणा की है। दादा साहब फाल्के को भारतीय सिनेमा का सबसे प्रतिष्ठित अवॉर्ड माना जाता है। उन्होंने बताया है कि रजनीकांत को दादा साहब फाल्के अवार्ड तीन मई को दिया जाएगा।

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा हमें खुशी है कि देश के सभी भागों से फिल्मकार, अभिनेता, अभिनेत्री, गायक,संगीतकार सभी लोगों को समय समय पर दादा साहब फाल्के अवॉर्ड मिला है।आज इस साल का दादा साहब फाल्के अवॉर्ड महान नायक रजनीकांत को घोषित करते हुए हमें बहुत खुशी है।

लोगों का मनोरंजन

रजनीकांत बीते 5 दशक से सिनेमा की दुनिया पर राज कर रहे हैं और लोगों का मनोरंजन कर रहे हैं। यही कारण है कि इस बार दादा साहेब फाल्के की ज्यूरी ने रजनीकांत को ये अवॉर्ड देने का फैसला लिया गया है।' इस साल ये सिलेक्शन ज्यूरी ने किया है। इस ज्यूरी में आशा भोंसले, मोहनलाल, विश्वजीत चटर्जी, शंकर महादेवन और सुभाष घई इन पांचों ज्यूरी ने बैठक करके एक राय से महानायक रजनीकांत को दादा साहब फाल्के अवॉर्ड देने की सिफारिश की।



मेहनत और लगन

रजनीकांत ने अपनी प्रतिभा, मेहनत और लगन से ये स्थान लोगों के दिल में जमा लिया है। ये उनका सही गौरव है। दादा साहब फाल्के अवॉर्ड इसलिए महत्वपूर्ण है। क्योंकि दादा साहब फाल्के ने पहला सिनेमा 1913 में राजा हरिशच्रंद बनाया था। तो उस राजा हरिशचंद्र सिनेमा के बाद ये पहले चित्रपट महर्षि कहलाने लगे और दादा साहब फाल्के की मृत्यु के बाद ये अवॉर्ड उनके नाम से रखा गया और आजतक 50 बार ये अवॉर्ड दिया गया है।

Suman

Suman

Next Story