×

कोरोना मरीजों के मसीहा बने गुरमीत चौधरी, 16 दिनों में ही खोला कोविड हॉस्पिटल

गुरमीत चौधरी लोगों के लिए मसीहा बने हैं। उन्होंने कोरोना से लड़ने में मदद के लिए नागपुर में कोविड हॉस्पिटल बनवाया है।

Network
Newstrack Network NetworkPublished By Ashiki
Updated on: 2021-05-11T14:40:56+05:30
Gurmeet Choudhary
X

Photo- Instagram

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली: देश में इन दिनों कोरोना वायरस (Corona Virus) कहर बरपा रहा है। तेजी से बढ़ रहे संक्रमण की वजह से हॉस्पिटल्स में बेड तक नहीं मिल रहे हैं। ऐसे में कुछ लोग मसीहा बन कर सामने आए हैं और लोगों की मदद के लिए हर संभव कोशिश कर रहे हैं। इस बीच कई फिल्मों में नायक की भूमिका और टीवी पर भगवान राम के किरदार को निभाने के बाद एक्टर गुरुमीत चौधरी (Gurmeet Choudhary) अब रियल लाइफ में भी एक असली नायक की तरह उभरकर सामने आए हैं। अभिनेता गुरमीत चौधरी ने महाराष्ट्र के नागपुर में 'आस्था'नाम का एक कोविड हॉस्पिटल खोला है।

कुछ दिनों पहले गुरमीत चौधरी ने सोशल मीडिया पर ऐलान किया था कि वह कोरोना के इलाज के लिए लखनऊ और पटना के अलावा कुछ और शहरों में कोविड हॉस्पिटल बनवाएंगे। गुरमीत ने यह काम शुरू भी कर दिया है। उन्होंने महाराष्ट्र के नागपुर में गरीबों और मिड‍िल क्लास लोगों को ध्यान में रखते हुए 'आस्था' नाम का हॉस्पिटल खोला है।

गुरमीत चौधरी ने डॉ. सय्यद वजहाताली और टीम के साथ मिलकर इस काम को अंजाम दिया है। उन्होंने टीम के साथ खोले गए अस्पताल की तस्वीरें अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर की हैं और साथ में लिखा है, 'Avangers की तरह ही हम 'Corovangers' हैं जो थैनॉस और उसकी आर्मी की तरह कोरोना को मिट्टी बनाकर उड़ा देंगे। डॉ. सय्यद वजहाताली और टीम के साथ मिलकर नागपुर में कोविड केयर हॉस्पिटल खोला है। मैं उन सभी डॉक्टरों और फ्रेंटलाइन वर्कर्स का शुक्रगुजार हूं, जिनकी मदद से यह संभव हो पाया।'

एक रिपोर्ट के मुताबिक इस हॉस्पिटल के बारे में अभिनेता ने कहा कि अभी कुछ महीनों पहले मेरे एक मीडिया मित्र ने मुझसे कोरोना से जुड़ी एक मदद मांगी थी, जब मैंने उसकी मदद करने के लिए अपने सोशल मीडिया का सहारा लिया तो मुझे पता चला कि कोरोना की वजह से देश में हालात कितने ज्यादा खराब चल रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि उस समय मेरे दिमाग में ये ख्याल आया कि मुझे लोगों की मदद के लिए एक असली नायक की तरह काम करना होगा।

टीवी एक्टर गुरमीत चौधरी ने कहा कि ये लोगों का प्यार है कि मैं अपनी जिंदगी में कलाकार के रूप में सफल हो पाया और मुझे लगता है कि अब मेरी बारी है इस देश के लिए और देश के लोगों के लिए कुछ करने की। इसलिए मैंने नागपुर शहर में ये कोविड हॉस्पिटल खोला है और देश के कई दूसरे शहरों में भी कोविड हॉस्पिटल खोलने की तैयारी में लगा हुआ हूं। उन्होंने कहा कि ईश्वर की कृपा रही तो जल्द ही दूसरे शहरों में कोविड हॉस्पिटल खुल जाएंगे।

Ashiki

Ashiki

Next Story