×

Vidya Balan The Dirty Picture: डर्टी पिक्चर में विद्या बालन को कास्ट नहीं करना चाहते थें फिल्म मेकर्स

फ़िल्म ' द डर्टी पिक्चर ' के मेकर्स उनके अब तक के अभिनय को देखकर अभिनेत्री के परफॉर्मेंस से आश्वस्त नहीं थें। फ़िल्म मेकर्स का मानना था कि अभिनेत्री विद्या बालन इस फ़िल्म के लिए सुयोग्य नहीं हैं।

Priya Singh
Report Priya SinghPublished By Shweta
Updated on: 23 Nov 2021 10:24 AM GMT
Vidya balan
X

 विद्या बालन (फोटो सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Vidya Balan The Dirty Picture: अभिनेत्री विद्या बालन (Vidya balan) बहुत जल्द एक कॉमेडी - ड्रामा फ़िल्म के साथ सिल्वर स्क्रीन पर धमाल मचाने वाली हैं। लेकिन उन्हें उनकी अबतक के एक्टिंग करियर की सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म डर्टी पिक्चर (vidya balan movie the dirty picture) में काम करने का मौका कैसे मिला आइए जानते हैं इसके बारे में।

बॉलीवुड अदाकारा विद्या बालन ने फ़िल्म ' डर्टी पिक्चर' (vidya balan movie dirty picture) से पहले कई सारी फिल्में की। लेकिन इन फिल्मों से अभिनेत्री बॉलीवुड में अपनी खास पहचान बनाने में असफ़ल रहीं। फ़िल्म हे बेबी, किस्मत कनेक्शन, लगे रहो मुन्ना भाई , परिणीता, भूल - भुलैया ये ऐसी फ़िल्में (vidya balan movies list) हैं, जिनमें अभिनेत्री ने बतौर मुख्य कलाकार अभिनय तो किया लेकिन वो दर्शकों के दिल में जगह बना पाईं। इन फ़िल्मों में अभिनेत्री का किरदार और उनकी अभिनय लगभग एक जैसी थी - मृदुभाषी, कम बोलने वाली, शर्मीली, पारंपरिक महिला की भूमिका। इन फ़िल्मों में विद्या बालन के अभिनय को बिलो द एवरेज माना गया। लेकिन इसके बाद साल 2010 में अभिनेत्री विद्या बालन के हिस्से एक बड़ी और सबसे हटके फ़िल्म ' इश्किया' (vidya balan movie ishqiya) आई। इस फ़िल्म में उनका किरदार अब तक के फ़िल्मों के किरदार से बिल्कुल अलग था। यह फ़िल्म उनके लिए फ़िल्म निर्माताओं के नज़रों में अपनी छवि बदलने का एक सुनहरा मौका था।


अभिनेत्री विद्या बालन ने इस फ़िल्म के माध्यम से फ़िल्म निर्माताओं की नजरों में अपनी एक अलग छवि बनाई। उन्होंने साबित कर दिया की वो सिर्फ सॉफ्ट रोल प्ले करने के लिए नहीं बनी हैं। बल्कि वो एक मजबूत किरदार की भूमिका भी बखूबी निभा सकती हैं। यह फ़िल्म उनके लिए एक इमेज ब्रेकर साबित हुई। इस फ़िल्म के तुरंत बाद अभिनेत्री के पास एक ऐसे ही मजबूत किरदार की भूमिका निभाने का ऑफर आया। इस किरदार का नाम था ' सिल्क स्मिता ' और फ़िल्म का नाम ' द डर्टी पिक्चर '( vidya balan movies) था।' सिल्क स्मिता दक्षिण भारतीय सिनेमा की जानीमानी आइटम क्वीन थी। फ़िल्मों में उनका आकर्षण इतना तेजी से बढ़ गया था कि एक फिल्म को हिट कराने के लिए उनके लटके झटके ही काफी होते थे। अभिनेत्री विद्या बालन को पर्दे पर उन्हीं का किरदार निभाना था। लेकिन फ़िल्म ' द डर्टी पिक्चर ' के मेकर्स उनके अब तक के अभिनय को देखकर अभिनेत्री के परफॉर्मेंस से आश्वस्त नहीं थें। फ़िल्म मेकर्स का मानना था कि अभिनेत्री विद्या बालन इस फ़िल्म के लिए सुयोग्य नहीं हैं।


फ़िल्म डायरेक्टर मिलन लूथरिया (Film director Milan Luthria) ने हाल ही में ' कोइमोई' को दिए एक इंटरव्यू में इस बात का खुलासा किया है। मिलन लूथरिया ने इंटरव्यू (film director milan luthria interview) में बताया है कि उस वक़्त फ़िल्ममेकर्स विद्या बालन को फ़िल्म ' द डर्टी पिक्चर ' के लिए कास्ट नहीं करना चाहते थें। क्योंकि उस वक़्त उनकी फिल्में पर्दे पर अपना कमाल नहीं दिखा पा रही थी। अभिनेत्री की फिल्में सिनेमाघरों में अच्छी नहीं चल रही थी। लेकिन मिलन लूथरिया ही वो इंसान थें, जिन्होंने इस किरदार के लिए विद्या बालन को चुना था। मिलन ने बताया कि वो विद्या बालन के बिना इस फ़िल्म को नहीं करना चाहते थें। इसलिए उन्होंने एकबार इस फ़िल्म को बनाने का विचार भी त्याग दिया था। क्योंकि अन्य लोग उनके इस बात पर सहमति नहीं जता रहे थें। यहीं नहीं जब अंततः फ़िल्म मेकर्स उनके इस बात से राजी हो गए, तो अभिनेत्री विद्या बालन ने इस फ़िल्म के ऑफर को अपनाने के लिए एक महीने का समय माँगा।


मिलन लूथरिया ने एक इंटरव्यू (milan luthria latest interview) में बताया है कि शुरुआत में अभिनेत्री ने इस फ़िल्म को करने से मना कर दिया था। लेकिन उन्होंने किसी तरह से अभिनेत्री को मनाने की पूरी कोशिश की। उन्होंने विद्या बालन को समझाया कि वो इस फ़िल्म के लिए एक बेहतर पसंद हैं। मिलन लूथरिया ने विद्या बालन के फिजिकल अपीयरेंस के बारे में बात करते हुए कहा ," शी हैज द परफेक्ट इंडियन बॉडी। शी हैज परफेक्ट इंडियन फेस। " मिलन लूथरिया ने बताया कि ये उनके अंदर का विश्वास था कि वो जानते थें कि विद्या बालन ही इस फ़िल्म के लिए परफेक्ट हैं। और वो ही सिल्क स्मिता के किरदार को पर्दे पर सटीक तरीके से प्रदर्शित कर पाएंगी। फिल्म निर्देशक मिलन लथुरिया ने वाकई इस फ़िल्म में कलाकारों से बेहतरीन काम निकलवाया है। विद्या बालन को उन्होंने पूरी तरह से सिल्क के किरदार में ढाल दिया। वहीं फ़िल्म के बाकी किरदारों की बात करें तो नसरुद्दीन शाह और तुषार कपूर ने भी इस फ़िल्म में बेहतरीन काम किया है।

हालांकि फिल्म के ओवर ऑल परफॉर्मेंस की बात करें तो फ़िल्म में विद्या बालन हर जगह छाई हुई थी। फ़िल्म में अभिनेत्री के अदाओं ने दर्शकों को उनका दीवाना बना दिया था। वहीं फ़िल्म के डायलॉग ' फिल्में तीन चीजों से चलती है इंटरटेनमेंट, इंटरटेनमेंट, इंटरटेनमेंट। और मैं एक एंटरटेंमेंट हूँ।' की बात करें तो यह आज भी फ़िल्म प्रेमियों के जुबान पर है। इस फिल्म को और भी मनोरंजक और रोचक बनाने का काम फ़िल्म के गाने ने किया है। इस फ़िल्म में एक से बढ़कर एक गाने हैं। फ़िल्म के आइकॉनिक गाने अभी तक एवरग्रीन साबित हो रहे हैं और सभी दर्शकों का मनोरंजन कर रहे हैं। गायक बप्पी दा के गाने "ऊ ला ला ऊला ला.." की बात करें तो यह गाना वेडिंग सीजन का बेस्ट ट्रैक सॉन्ग है। जबकि गाना इश्क सूफीयाना की बात करें तो यह एक लविंग सॉन्ग है, जो युवाओं को खूब पसंद आता है।

Shweta

Shweta

Next Story