×

Fact Check: क्या Supreme Court ने शिक्षकों के लिए जारी किया Logo?

Fact Check: वायरल पोस्ट की जब जांच पड़ताल की गई, तो यह पोस्ट फर्जी पाया गया।

Network

NetworkNewstrack NetworkRagini SinhaPublished By Ragini Sinha

Published on 18 Sep 2021 11:52 AM GMT

Fact Check latest news
X

Supreme Court ने शिक्षकों के लिए जारी किया Logo? 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Fact Check: सोशल मीडिया पर इन दिनों एक पोस्ट वायरल हो रहा है। यह पोस्ट शिक्षकों से जुड़ी है। वायरल हो रहे इस पोस्ट में एक लोगो (Logo) साझा किया गया है। इस लोगो (Logo) में कलम और किताब बनी है, जिस पर ऊपर लिखा है शिक्षक, जबकि नीचे 'द नेशन बिल्डर' लिखा है। पोस्ट में यह भी दावा किया जा रहा है कि सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) का इस संबंध में आदेश आया है कि, सभी शिक्षकों को ये लोगो (Logo) अपनी गाडियों पर लगाना है। इस पोस्ट को बहुत से लोग तेजी से वायरल कर रहे हैं। वही, कुछ शिक्षकों ने तो इसे अपने स्थानीय ग्रुप में साझा कर, गाडियों पर ये स्टीकर लगाने की अपील की है।

गलत है यह पोस्ट

इस वायरल पोस्ट की जब जांच पड़ताल की गई, तो यह पोस्ट फर्जी पाया गया। यह पोस्ट पूरी तरह से फेक है। जांच में पता चला की इस संबंध में सुप्रीम कोर्ट ने कोई आदेश जारी नही किया है और न ही इस तरह का कोई लोगो (Logo) शेयर किया है। ऐसे में सभी शिक्षको से अपील है की वह अपनी गाडियों में ये लोगो (Logo) ना लगाएं और जिन्होंने लगा लिया है वह तुरंत निकल लें क्योंकि मोदी सरकार नया मोटर व्हीकल एक्ट लेकर आई है, जिसके तहत गाडियों पर नंबर प्लेट के अलावा कुछ भी लिखवाने पर जुर्माना चुकाना पड़ सकता है।

लोगों को फर्जी मैसेज से दूर रहने की सलाह

PIB Fact Check ने लोगों से अपील की है की वह कोई भी गलत या फर्जी मैसेज बिना जांच करे वायरल न करें। क्योंकि कई बार लोग सोशल मीडिया की फर्जी पोस्ट के झांसे में आकर अपना नुकसान भी करवा लेते हैं। लोग बिना सच्चाई जाने कोई भी फर्जी पोस्ट फेसबुक और व्हाट्सएप के ग्रुप में शेयर कर रहे हैं। इसको लेकर भारत सरकार के प्रेस इनफार्मेशन ब्यूरो ने चेतावनी जारी की है। साथ ही लोगों को ऐसे मैसेज से बचने की सलाह दी।

Ragini Sinha

Ragini Sinha

Next Story