Top

इस 'खास' काढ़े को पीने से तीन दिन में भाग रहा कोरोना? वायरल हुई रेसिपी

इन दिनों एक पोस्ट वायरल हो रही है जिसमें दावा किया जा रहा है कि आयुष काढ़ा से कोरोना का इलाज हो सकता है।

Meghna

MeghnaWritten By MeghnaAshiki PatelPublished By Ashiki Patel

Published on 18 May 2021 12:48 PM GMT

Corona patients cure in three days after drinking kadha
X

काढ़ा( Photo- Social Media)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: क्या बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए आयुष मंत्रालय ने किसी 'दिव्य' काढ़े को पीने की सलाह दी है? क्या इस 'खास' काढ़े को पीने वाले लोगों के अंदर से कोरोना वायरस तीन दिन में भाग रहा है? क्या वाकई में इतनी खास है इस 'आयुष काढ़े' की सामग्री? जानें सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस पोस्ट का सच!

दुनियाभर में फैली कोरोना वायरस महामारी अभी खत्म नहीं हुई है। वैक्सीन आने के बावजूद भारत सरकार समय समय पर दिशा निर्देशों के पालन को लेकर ऐडवाइज़री जारी कर रही है। देश में फैली नई लहर तेज़ी से पैर पसार रही है, ऐसे में ये ज़रूरी है कि लोग दिशा निर्देशों के पालन को गंभीरता से लें और साथ ही फर्ज़ी खबरों और अफवाहों से भी दूर रहें।

वायरल हो रहा यह खास 'काढ़ा'

सोशल मीडिया पर एक पोस्ट तेज़ी से वायरल हो रहा है जिसमें कोरोना वायरस से बचाव के लिए एक 'दिव्य' काढ़े की रेसिपी बताई गई है। इसके साथ ही उसमें ये भी दावा किया जा रहा है कि ये काढ़ा आयुष मंत्रालय की ओर से बताया गया है। पोस्ट में लिखा है, "'आयुष काढ़ा' पीने से कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्ति तीन दिन के अंदर ठीक हो सकता है।"

वायरल हो रही 'आयुष काढ़े' की रेसिपी

पोस्ट में इस 'आयुष काढ़े' की खास रेसिपी भी बताई गई है जो काफी वायरल हो रही है। पोस्ट में रेसिपी को लेकर लिखा है, "तुलसी पाउडर- 30 ग्राम, काली मिर्च 20 ग्राम, सोंठ- 30 ग्राम, दालचीनी- 20 ग्राम। चार कप काढ़े के लिए एक चुटकी काढ़ा डालें और चीनी नहीं गुड़ का प्रयोग करें।"

दावा- इसको पीने 6000 मरीज़ो में से 5989 हुए नेगेटिव

पोस्ट में रेसिपी के साथ कई दावे भी किए गए हैं। पोस्ट में लिखा है, "आयुष मंत्रालय की ओर से बताए गए विशेष दिव्य काढ़े के सेवन से कोरोना वायरस के 6,000 पेशेंट्स पर किए गए आयुर्वेदिक प्रयोग में मात्र 3 दिन के अंदर उनमें से 5989 मरीज़ हुए नेगेटिव।"

भ्रामक है दावा

तेज़ी से वायरल हो रहे इस पोस्ट पर संज्ञान लेते हुए इसको शेयर कर सरकार की पीआईबी फैक्ट चेक के ट्विटर हैंडल ने स्पष्टीकरण जारी किया है। हैंडल ने ट्वीट किया, "आयुष काढ़े से कोरोना वायरस से ठीक होने का दावा भ्रामक है। केवल रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए ही आयुष मंत्रालय द्वारा इस 'आयुष काढ़े' को पीने की सलाह दी गई है।"

खुद करें जांच, तब करें विश्वास

आज के दौर में जहां जानकारियां जल्दी से जल्दी पहुंचने की ज़रूरत है वहीं इस बात पर भी ज़ोर देना होगा की गलत जानकारी ना साझा की जाए। सोशल मीडिया पर आए दिन ऐसी खबरें वायरल होती रहती हैं जिसमें कोरोना वायरस को लेकर अलग अलग दावे किए जाते हैं। हमें उनकी प्रामाणिकता की जांच कर ही उनपर विश्वास करना होगा।

Ashiki

Ashiki

Next Story