व्हाट्सएप का चुनाव पर पडे़गा असर, 87 हजार से ज्यादा मतदाता ग्रुप होंगे प्रभावित

जयपुर :व्हाट्सएप  राजनीतिक संदेशों के साथ लाखों लोगों को प्रभावित करता है। व्हाट्सएप पर 87 हजार से ज्यादा समूह सक्रिय हैं जिनपर राजनीतिक संदेशों का आदान-प्रदान होता है। हांगकांग की काउंटर प्वाइंट रिसर्च के काउंटर प्वाइंट रिसर्च के अनुसार, 2016 अंत तक भारत में करीब 28-30 करोड़ स्मार्टफोन यूजर थे। आज, इसकी संख्या 40 करोड़ पार कर गई है।

उन्होंने कहा, हर उम्र के लोग व्हाट्सएप का प्रयोग कर रहे हैं, इसलिए यह कहना सही होगा कि फेसबुक के स्वामित्व वाले मंच की 30 करोड़ से ज्यादा भारतीयों तक पहुंच है, जो कि देश में फेसबुक यूजर के आकार के लगभग बराबर है या उससे बड़ा है। मतदाताओं को प्रभावित करने के मकसद से 87 हजार से ज्यादा समूह फिलहाल व्हाट्सएप पर सक्रिय हैं। इस चुनावी मौसम में विभिन्न सरकारी नीतियों से संबंधित नकली आंकड़ों से लेकर क्षेत्रीय हिंसा को बढ़ावा देने वाली खबरों, राजनीतिक खबरों को तोड़-मरोड़ कर पेश करना, सरकारी घोटाले, ऐतिहासिक मिथक, देशभक्ति और हिंदू राष्ट्रवाद का प्रचार व्हाट्सएप पर नजर आने वाला है।’

शादी के इतने दिन बाद अनुष्का को लगा विराट के साथ उनके रिश्ते में नहीं है कुछ खास

झूठी खबरों पर अंकुश लगाने की जरूरत महसूस करते हुए व्हाट्सएप ने टीवी, रेडियो और डिजिटल मंच पर झूठी खबरों के खतरे के बारे में जागरूकता कार्यक्रमों से लेकर कई पहल शुरू की हैं। सोशल मीडिया मंच ने लगभग एक लाख भारतीयों को झूठी जानकारी का पता लगाने के लिए प्रशिक्षण देने और व्हाट्सएप पर सुरक्षित रहने के लिए टिप्स देने के लिए नैसकॉम फाउंडेशन के साथ समझौता किया है