Top

गुजरात के अस्पतालों में बड़ा संकट, सूरत में आज रात तक की ऑक्सीजन

गुजरात में भी ऑक्सीजन की खपत 1000 टन पहुंच चुकी है। बताया जा रहा है कि सूरत में आज रात तक की ऑक्सीजन बची हुई है।

Newstrack

NewstrackNewstrack Network NewstrackShraddhaPublished By Shraddha

Published on 26 April 2021 3:22 PM GMT

गुजरात में ऑक्सीजन की किल्लत
X

ऑक्सीजन की किल्लतफाइल फोटो (सौजन्य से सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गुजरात : देश में कोरोना संकट से कई राज्यों में ऑक्सीजन (Oxygen) की किल्लत देखने को मिल रही है। कई लोगों की मौत ऑक्सीजन न मिलने पर हो रही है। इसी बीच गुजरात (Gujarat) में भी ऑक्सीजन की खपत 1000 टन पहुंच चुकी है। बताया जा रहा है कि सूरत में आज रात तक की ऑक्सीजन बची हुई है। डॉक्टरों का कहना है कि 4000 मरीजों की स्थिति काफी गंभीर बताई जा रही है।

कोरोना के दिन पर दिन बढ़ते संकट को देखते हुए गुजरात के अस्पतालों में ऑक्सीजन को लेकर एक बड़ा संकट खड़ा हो गया है। आपको बता दें कि गुजरात के अस्पतालों में ऑक्सीजन को लेकर हंगामा मचा हुआ है। गुजरात में एक महीने के दौरान ऑक्सीजन की खपत 13 गुना बढ़ गई है। बताया जा रहा है कि पहले कोरोना मरीजों के लिए 75 टन ऑक्सीजन का उपयोग किया जाता था लेकिन अब 1000 टन इस्तेमाल हो रहा है।

गुजरात में ऑक्सीजन की ऐसी खपत को देखते हुए सरकार के साथ - साथ कई सामाजिक संगठन ऑक्सीजन का सिलेंडर मुहैया कराने में अपना सहयोग कर रहे हैं। आपको बता दें कि केंद्र सरकार गुजरात को 1000 टन ऑक्सीजन देने का आश्वासन दे रही है। इसी बीच गुजरात के विभिन्न शहरों में ऑक्सीजन की कमी को लेकर हाहाकार मचा हुआ है।

सूरत में कोरोना मरीजों की स्थिति और बिगड़ सकती है। आपको बता दें कि इस शहर के तमाम अस्पतालों के डॉक्टरों का कहना है कि उनके पास बस 12 घंटे तक का ही ऑक्सीजन बचा हुआ है। इसके साथ यह भी डॉक्टरों से साफ कह दिया है कि अगर समय पर ऑक्सीजन ना मिला तो शहर में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति बिगड़ सकती है। सूरत के कई बड़े अस्पतालों में महाराष्ट्र की लिंडे कंपनी से ऑक्सीजन की सप्लाई की जा रही थी।

Shraddha

Shraddha

Next Story