×

Terrorist Attack Alert: दिवाली से पहले मंडराया टेरर अटैक का साया, अलर्ट पर सुरक्षा एजेंसियां

अहमदाबाद में आतंकी हमले का हाई अलर्ट जारी, निशाने पर माल, सिनेमा घर

Network
Updated on: 20 Oct 2021 5:50 PM GMT
Terrorist Attack
X

आतंकी की सांकेतिक तस्वीर (फोटो साभार-सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Terrorist Attack Alert: दिवाली से पहले देश पर एकबार फिर आतंकी हमले का साया (diwali par aatanki hamle ka alert) मंडराता दिख रहा है। हालांकि सुरक्षा एजेंसियां इसको लेकर काफी अलर्ट हैं। वहीं अहमदाबाद में बड़े आतंकी हमले की चेतावनी (ahmedabad mein Terrorist Attack ka alert) जारी की गई है। अलर्ट जारी होने के बाद अहमदाबाद पुलिस को हाई अलर्ट कर दिया गया है। अहमदाबाद पुलिसकमिश्नर संजय श्रीवास्तव के मुताबिक बुधवार को राज्य में आतंकी हमले को लेकर चेतावनी (ahmedabad mein Terrorist Attack ka alert) जारी की गई है। इसके तहत अहमदाबाद पुलिस का अलर्ट पर रहने के लिए कहा गया है। खुफिया रिपोर्ट के आधार पर राज्य में आतंकी हमले को लेकर चेतावनी जारी जारी किया है।

पुलिस को जारी अलर्ट में मॉल, सिनेमा और भीड़भाड़ वाली जगहों पर विशेष सतर्कता बरतने को कहा गया है। पुलिस कमिश्नर ने बताया कि बुधवार से 18 दिसंबर तक अहमदाबाद को हाई अलर्ट किया गया है। बता दें कि इससे पहले उत्तर पूर्वी राज्य असम में भी अतंकी हमले के अंदेशे के चलते हाई अलर्ट जारी किया जा चुका है। सूत्रों के मुताबिक राज्य की खुफिया एजेंसियों के हाथ पाकिस्तानी आईएसआई या फिर अलकायदा हमला किए जाने के इनपुट लगे हैं। सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक आतंकी आरएसएस कैडरों, आर्मी क्षेत्रों और धार्मिक स्थलों को निशाना बनाने की फिराक में हैं।

जानकारी के मुताबिक असम में इनपुट मिलने के बाद ही असम पुलिस को हाई अलर्ट कर दिया गया है। सुरक्षा काफी कड़ी कर दी गई है, साथ ही हर गतिविधि पर कड़ी नजर रखी जा रही है। असम पुलिस के अनुसार दो आतंकी संगठन अलकायदा और आईएसआई (hamle ki firak mein aatanki) की तरफ से हमले किए जाने के इनपुट मिले हैं। इसमें आतंकी आईईडी ब्लॉस्ट कर सकते हैं। वहीं जम्मू कश्मीर में बढ़ रही आतंकी गतिविधियों पर सुरक्षा विशेषज्ञों का माना है कि साजिश के तहत राज्य में हिंसा को भड़काया जा रहा है। इससे सुरक्षा एजेंसियों का ध्यान कश्मीर की तरफ केंद्रित होगा और आतंकी अन्य राज्य को निशाना बनाते हुए बड़ी घटना को अंजाम दे सकेंगे।

Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story