×

Haryana Congress: हरियाणा में कांग्रेस को बड़ा झटका, कुलदीप बिश्नोई ने किया भाजपा में शामिल होने का ऐलान

Haryana Congress: बिश्नोई ने इस बाबत किए गए अपने ट्वीट में भाजपा में शामिल होने का बड़ा ऐलान किया है।

Anshuman Tiwari
Written By Anshuman Tiwari
Updated on: 3 Aug 2022 5:27 AM GMT
Haryana Congress
X

कुलदीप बिश्नोई (photo: social media ) 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
Click the Play button to listen to article

Haryana Congress: हरियाणा में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। पार्टी के वरिष्ठ नेता और विधायक कुलदीप बिश्नोई (Kuldeep Bishnoi) ने भाजपा में शामिल होने का ऐलान कर दिया है। बिश्नोई काफी दिनों से पार्टी नेतृत्व से नाराज चल रहे थे और उन्हें लेकर तरह-तरह की सियासी अटकलें लगाई जा रही थीं।

पार्टी नेतृत्व से नाराजगी के कारण राज्यसभा चुनाव के दौरान भी उन्होंने कांग्रेस को झटका देते हुए क्रॉस वोटिंग की थी। राष्ट्रपति चुनाव के दौरान भी उन्होंने एनडीए के उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को समर्थन दिया था। अब बिश्नोई ने अपने सियासी भविष्य को लेकर पत्ते खोल दिए हैं। उन्होंने गुरुवार को भाजपा का दामन थामने की घोषणा की है।

कल थामेंगे भाजपा का दामन

बिश्नोई ने इस बाबत किए गए अपने ट्वीट में भाजपा में शामिल होने का बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने अपने ट्वीट में यह भी बताया है कि वे गुरुवार को भाजपा की सदस्यता ग्रहण करेंगे। उन्होंने अपने ट्वीट में इशारों में बड़ी बात कहने की कोशिश भी की है। उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि घायल तो यहां हर परिंदा है, मगर जो फिर से उड़ सका वही जिंदा है। बिश्नोई ने विधानसभा की सदस्यता से भी इस्तीफा देने का फैसला किया है।

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस नेता भूपिंदर सिंह हुड्डा ने बिश्नोई को पार्टी छोड़ने के साथ विधानसभा की सदस्यता भी छोड़ने की चुनौती दी थी। हुड्डा का कहना था कि उन्होंने कांग्रेस उम्मीदवार के रूप में जीत हासिल की है और ऐसी स्थिति में पार्टी छोड़ने पर उन्हें लोगों का विश्वास फिर से हासिल करना चाहिए। जानकारों का कहना है कि विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफे के बाद विश्नोई की आदमपुर विधानसभा सीट से उनके बेटे भव्य बिश्नोई भाजपा उम्मीदवार के रूप में किस्मत आजमा आएंगे।

समर्थकों के साथ बैठक में लिया फैसला

बिश्नोई ने पहले ही स्पष्ट तौर पर कहा था कि अपने समर्थकों और क्षेत्र के लोगों से चर्चा के बाद वे अपने सियासी भविष्य पर फैसला लेंगे। मंगलवार को उन्होंने अपने आदमपुर स्थित आवास पर समर्थकों की बड़ी बैठक बुलाई थी। इस बैठक के दौरान उन्होंने खुद के भाजपा में शामिल होने के संबंध में समर्थकों के साथ चर्चा की। सूत्रों का कहना है कि समर्थकों ने उनके भाजपा में शामिल होने का खुलकर समर्थन किया।

इसके बाद ही बिश्नोई ने भाजपा में शामिल होने के संबंध में अपने फैसले को साफ कर दिया। बाद में उन्होंने इस बाबत ट्वीट करके भी अपने फैसले की जानकारी दी। समर्थकों की बैठक के दौरान बिश्नोई ने कहा कि आदमपुर से उनका रिश्ता खत्म नहीं होगा। वे क्षेत्र के विकास के लिए आगे भी पूरी तरह डटकर काम करते रहेंगे।

पहले ही दे दिया था संकेत

सियासी हलकों में बिश्नोई का भाजपा में शामिल होना पहले ही तय माना जा रहा था। राज्यसभा चुनाव में क्रॉस वोटिंग के बाद पार्टी नेतृत्व की ओर से उन्हें सभी पदों से हटा दिया गया था। इसके बाद बिश्नोई ने दिल्ली यात्रा के दौरान गृहमंत्री अमित शाह समेत भाजपा के कई वरिष्ठ नेताओं के साथ मुलाकात की थी।

इस मुलाकात के दौरान उन्होंने भाजपा में शामिल होने का बड़ा संकेत भी दिया था। बिश्नोई काफी दिनों से कांग्रेस के नेतृत्व से नाराज चल रहे थे। उन्होंने कांग्रेस नेता राहुल गांधी से मिलकर अपना पक्ष रखने की बात भी कही थी मगर उनकी राहुल गांधी से मुलाकात नहीं हो सकी। बाद में उन्होंने बागी तेवर अपना लिया था।

Monika

Monika

Next Story